अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चार शातिर जालसाज रंगेहाथ गिरफ्तार

नकली नोटों और स्टाम्प के काले धंधे से जुड़े एक अंतरराज्यीय गिरोह का भंडाफोड़ करते हुए कोतवाली थाने की पुलिस ने तीन जालसाजों को मंगलवार को रंगेहाथ धर दबोचा। पकड़े गये जालसाजों अजय कुमार (कौआकोल, पटना सिटी), अजय (सोनपुर) और माणिक कुमार देव उर्फ बंगाली (दरियापुर गोला) के पास से एक रुपए के 1500 रवेन्यू स्टाम्प, 50 रुपये के 50 व 5 रुपये के पीस कोर्ट फी स्टाम्प, 15 हजार रुपये नकली नोट, करीब 30 हजार के बैंक ड्राफ्ट और 200 रुपये के कोर्ट स्टाम्प का प्रिंट करने वाले ब्लॉग पुलिस ने बरामद किये हैं।ड्ढr ड्ढr गुप्त सूचना के आधार पर सुबह करीब 8.30 बजे थानाध्यक्ष मुंद्रिका प्रसाद और अपर थानाध्यक्ष दिनेशचंद्र श्रीवास्तव ने दल-बल के साथ महावीर मंदिर के समीप घेराबंदी करके तीनों जालसाजों को पकड़ा। पुलिस के मुताबिक इस गिरोह का नेटवर्क दूसर जिलों से लेकर राज्यों तक फैला हुआ है। आरोपितों में माणिक देव पहले भी जाली स्टाम्प के धंधे में जेल जा चुका है। पूछताछ के दौरान माणिक देव ने पुलिस के समक्ष किसी ‘धीरज’ का नाम लेते हुए बताया कि उसी के माध्यम से उसके पास नकली नोट या अन्य सामान आये थे। दरअसल 50:50 पर यह खेल खेला जाता है। मतलब एक हजार असली नोट देने पर दो हजार के नकली नोट मिलते हैं। 50 रुपये का नकली नोट 30 रुपये में मिलता है। वैसे इसका रट बराबर बढ़ते-घटते रहता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: चार शातिर जालसाज रंगेहाथ गिरफ्तार