DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जल्द ही इस्तीफा दे सकते हैं सोमनाथ चटर्जी

ेन्द्र में सत्तारूढ कांग्रेस नीत संप्रग सरकार को बाहर से समर्थन दे रहे वामदलों के समर्थन वापसी का पत्र राष्ट्रपति को औपचारिक रूप से सौंप दिए जाने के साथ ही अब लोकसभा अध्यक्ष सोमनाथ चटर्जी के जल्द ही पद से इस्तीफो देने की संभावना है। माक्र्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी, फोरवार्ड ब्लाक और रिवोल्यूशनरी सोशलिस्ट पार्टी ने आज दोपहर राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल को समर्थन वापसी के पत्र के साथ अपने-अपने सांसदों के नामों की सूची भी सौंपी हैं और माकपा के 43 सांसदों की सूची में संभवत: चटर्जी का नाम भी शामिल है। माकपा महासचिव प्रकाश करात ने बाद में पार्टी मुख्यालय में पत्रकारों से चर्चा चटर्जी के इस्तीफें से संबंधित प्रश्नों का तो सीधा जबाव नहीं दिया, लेकिन कहा कि पार्टी के टिकट पर चुनाव जीते सभी सांसदों के नाम सूची में शामिल है। उन्होंने कहा कि चटर्जी लोकसभा अध्यक्ष हैं और उनको पार्टी कोई निर्देश नहीं देगी। लेकिन परिस्थितियों के आधार पर वह स्वयं निर्णय ले सकते हैं। करात के इस वक्तव्य को चटर्जी के इस्तीफे का संकेत माना जा रहा है। खबर है कि चटर्जी ने आज सुबह अपने निवास पर लोकसभा सचिवालय के अधिकारियों के साथ बैठक भी की है और इससे उनके इस्तीफे की खबरों को बल मिला है। चटर्जी के इस्तीफा देने की स्थिति में वामदलों के सांसदों की संख्या 60 हो जाएगी। चटर्जी के इस्तीफो देने से मनमोहन सरकार के लिए मुश्किलें और बढ़ जाएगीं, क्योंकि शक्ित परीक्षण की स्थिति में एक सदस्य को अध्यक्ष बनाना होगा और यह पद सत्तारूढ दल या उसके समर्थक दल को मिल सकता है, जिससे उसके समर्थक सांसदों की संख्या कम हो सकती है।ड्ढr

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: जल्द ही इस्तीफा दे सकते हैं सोमनाथ चटर्जी