DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सचिन को समय से मिला भारत रत्न : लता

सचिन को समय से मिला भारत रत्न : लता

स्वर कोकिला लता मंगेशकर क्रिकेट के दिग्गज सचिन तेंदुलकर को देश का सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘भारत रत्न’ मिलने की खबरें सुनकर फूली नहीं समा रही हैं। लता को यह सम्मान वर्ष 2001 में मिल चुका है।

लता मंगेशकर ने कहा कि मैं तीन वर्षों से कहती आ रही हूं कि सचिन भारत रत्न के हकदार हैं। भारत सरकार सचिन को भारत रत्न देने के लिए इससे उपयुक्त समय नहीं चुन सकती थी।

सरकार ने भारत रत्न देने की यह घोषणा सचिन के मुंबई में अपना आखिरी व 200वां टेस्ट मैच खेले जाने के ठीक बाद की। इस सम्मान के साथ ही सचिन भारत के इतिहास में ऐसा करने वाले सबसे युवा एवं पहले खिलाड़ी हो गए हैं। सबसे युवा के तौर पर उन्होंने दिवंगत प्रधानमंत्री राजीव गांधी के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ दिया।

लता ने कहा कि इस समय सचिन के प्रति जनता की भावनाएं और मनोभाव चरम पर हैं। शुक्रवार को सचिन आखिरी बार क्रिकेट मैदान पर चले। पूरा देश उन्हें जाता देखकर रोया। यकीन मानिए, मैंने ऐसा पहले कभी नहीं देखा। मुझे बेहद खुशी है कि उन्हें इतनी कम उम्र में भारत रत्न सम्मान मिला। इस सम्मान का आनंद लेने के लिए उनके पास अभी बहुत साल पड़े हैं।

लेकिन 40 की उम्र में सचिन के संन्यास के फैसले से यह दिग्गज गायिका मायूस हैं।

उन्होंने कहा कि मैं अभी भी कहती हूं कि सचिन कुछ और वर्षों तक अच्छा क्रिकेट खेल सकते थे। मुझे यकीन है मेरी इस बात से हर कोई सहमत है।

‘‘उनके आखिरी मैच के बाद किसी ने मुझसे कहा कि सचिन और कितने दिन खेल पाते, मैंने कहा कि उन्हें और एक साल खेलना चाहिए था। लेकिन अब मुझे लगता है कि वह कम से कम और दो साल तक खेल सकते थे।’’

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सचिन को समय से मिला भारत रत्न : लता