अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चीत्कार से गूंज उठा पालू गांवचबचाओ-बचाओ चिल्ला रहे थे लोग

चीत्कार से गूंज उठा ओरमांझी प्रखंड के पालू गांव। दुर्घटना स्थल पर करुण कं्रदन और कोहराम मचा था। लोग चीख चिल्ला रहे थे। दृश्य देख कर लोगों को दिल दहल उठा। घायल तड़प रहे थे और शव निकालते-निकालते लोगों के आंखों में आंसू झलक आये थे। लोग रो पड़े।ड्ढr पालू और चुटूपालू गांव के ग्रामीणों ने शव को निकालने में सहयोग किया था। शव निकाल कर एक ओर और घायलों को दूसरी ओर सुलाया जा रहा था। बचाओ, जल्दी करो, नहीं तो नहीं बचेंगे जसे शब्दों ने वातावरण को मर्माहत कर दिया था। एक बच्ची ने तो मां की गोद में ही दम तोड़ दिया। शायद अंतिम समय में मां को भी न पुकार सकी।ड्ढr बुधवार को जो लोग हाारीबाग से रांची लौट रहे थे, उन्हें क्या पता था, घर तक नहीं पहुंच पायेंगे। सिटी राइड में करीब 35 लोग सवार थे। दुर्घटना का दृश्य देखने के बाद एक भी सवारी की बचने की उम्मीद नही दिख रही थी। सिटी बस का परखच्चा उड़ गया था। ऊपर की पूरी छत बिखरी पड़ी थी।ड्ढr घायलों को बचाने में लगे ग्रामीणों को कपड़े खून से भर गया था। रास्ते से जो गुजर रहा था, लोगों का क्रंदन सुन कर वहीं रुक जा रहा था। सहायता के लिए आगे बढ़ रहे थे। घटना स्थल पर कई शव जहां-तहां बिखर पड़े थे। किसी के हाथ कट गये थे, तो किसी की गर्दन कट कर झुक गयी थी। किसी की धड़ सिर से अलग हो गया था। इस हृदय विदारक दृश्य का वर्णन नहीं किया जा सकता था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: चीत्कार से गूंज उठा पालू गांवचबचाओ-बचाओ चिल्ला रहे थे लोग