DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तापस की मौत से गुस्साये ग्रामीणों ने एनएच जाम की

नरगा के लाभुक तापस सोरन की मौत ने ग्रामीणों को उबाल पर ला दिया। इस मामले के जिम्मेवार अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई, मुआवजा, नौकरी और शहीद स्मारक बनाने की मांग को लेकर परंपरागत हथियारों से लैस होकर आये ग्रामीणों ने सात घंटे तक एनएच 33 को जाम कर दिया। सुबह 8.15 से जाम लगा, जो 2.05 पर समाप्त हुआ। इससे यात्री और चालक काफी परशान रहे।ड्ढr जाम कर रहे ग्रामीणों को झाविमो, झामुमो, भाजपा, भाकपा माले, जदयू, सीपीआइ, आजसू आदि राजनीतिक संगठनों का समर्थन मिला। आक्रोशित ग्रामीण बीडीओ, इांीनियर, पंचायत सेवक और बिचौलियों को तत्काल गिरफ्तार करने की मांग कर रहे थे। ग्रामीण कह रहे थे कि अब इन लोगों पर हत्या का मामला दर्ज किया जाना चाहिए। आंदोलनकारी तापस की विधवा दसमी टुडू को दस लाख रुपये मुआवजा, सरकारी नौकरी, बच्चों की नि:शुल्क पढ़ाई, चरही चौक पर शहीद स्मारक बनाने की मांग पर भी अडिग थे।ड्ढr जाम हटवाने के लिए डीसी विनय चौबे और एसपी प्रवीण कुमार भी पहुंचे। इसके पहले एसडीओ रवींद्र प्रसाद सिंह, डीएसपी इरशाद अहमद, स्थानीय थाना प्रभारी सहित अन्य अधिकारी जाम हटाने की कोशिश कर रहे थे। डीसी ने ग्रामीणों को आश्वस्त किया कि उनकी हर मांगों को पूरा करने का प्रयास किया जायेगा। तत्काल जिला प्रशासन के स्तर से जो हो सकता है, उसे किया जा रहा है। दसमी को एक लाख रुपये का चेक दिया गया। चतुर्थ श्रेणी में नौकरी, बच्चों को सरकारी खर्च पर शिक्षा और तापस के भाई दिलीप सोरने को पक्का मकान देने का आश्वासन भी दिया गया। ड्ढr

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: तापस की मौत से गुस्साये ग्रामीणों ने एनएच जाम की