अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कमिश्नर ने जांच कमेटी बनायी

रिनपास के प्रभारी निदेशक अशोक कुमार प्रसाद पर अनियमितता के कई गंभीर आरोप हैं। इनकी जांच के लिए प्रमंडलीय आयुक्त निधि खर ने तीन सदस्यीय जांच कमेटी का गठन किया है। कमेटी में रांची के बंदोबस्त पदाधिकारी एबी पति, पंचायती राज के उप निदेशक अजीत कुमार और आयुक्त की सचिव वंदना कुल्लू को शामिल किया गया है। इन्हें एक सप्ताह के भीतर विस्तृत जांच रिपोर्ट सौंपने का निर्देश दिया गया है। आयुक्त निधि खर ने बताया कि प्रभारी निदेशक के खिलाफ क्षेत्राधिकार से बाहर जाकर काम करने की शिकायतें मिल रही थीं। रिनपास प्रबंध समिति के अध्यक्ष आयुक्त होते हैं। उनकी जानकारी और स्वीकृति के बाद ही महत्वपूर्ण निर्णय लिये जा सकते हैं। वर्तमान प्रभारी निदेशक द्वारा इसकी अवहेलना की जा रही है। उन्होंने कामेश्वर पांडेय नामक एक बाहरी व्यक्ित को अपने कार्यालय में रख लिया है। वही महत्वपूर्ण फाइलों को डील करता है। फाइलें ऑफिस से बाहर भी ले जायी जाती हैं। इस बावत पूछे जाने पर प्रभारी निदेशक का कहना है कि उन्होंने कामेश्वर को काम पर रख लिया है। सरकारी आदेश के बगैर उसे कैसे काम पर रख लिया गया। जांच कमेटी इन सभी बिंदुओं पर जांच कर एक सप्ताह के भीतर रिपोर्ट सौंपगी। तब आगे की कार्रवाई की जायेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कमिश्नर ने जांच कमेटी बनायी