DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

श्रीलंका में अपना बेस्ट दूंगा-सचिन

भारतीय क्रिकेट को जिस घड़ी का बेसब्री से इंतजार था वह अब बिल्कुल नजदीक आ गयी है। रनों के शिखर पुरुष सचिन तेंदुलकर वेस्टइंडीज के महान बल्लेबाज ब्रायन लारा का टेस्ट क्रिकेट में सर्वाधिक रन बनाने का रिकॉर्ड तोड़ने की दहलीज पर खड़े हैं और श्रीलंका के तीन टेस्टों के दौरे में वह इस रिकॉर्ड को अपने नाम कर सकते हैं। सचिन ने आज कहा कि वह पूरी तरह फिट हैं और इस महीने श्रीलंका में होने वाली टेस्ट सीरीज में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने के लिए बेताब हैं। वह ढाका में त्रिकोणीय श्रंखला और पाकिस्तान में एशिया कप में टीम से बाहर रहे थे। अपनी ग्रोइन चोट से पूरी तरह उबर जाने के बाद उन्हें श्रीलंका दौरे के लिए टेस्ट टीम में शामिल किया गया है। टीम में शामिल होने के लिए यहां पहुंचे सचिन ने कहा, ‘मैं पूरी तरह फिट हूं और श्रीलंका दौर में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन की कोशिश करूंगा।’ड्ढr अनिल कुंबले की कप्तानी वाली टीम मंगलवार की दोपहर को कोलंबो रवाना होगी। तेंदुलकर ने आगामी सीरीज में भारत के अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद जतायी। उन्होंने कहा, ’टीम अच्छी फॉर्म में है और हमें इसे सीरीज जीतने तक बनाये रखना होगा।’ अबूझ स्पिनर अजंथा मेंडिस के बार में मास्टर ब्लास्टर ने कहा, ‘मैं अभी तक उनके खिलाफ नहीं खेला हूं। इसलिए मेरा किसी तरह की टिप्पणी करना उचित नहीं है। मैं वहां जाकर ही देखूंगा की क्या कर सकता हूं।’ सचिन 23 जुलाई से श्रीलंका में शुरू होने वाली तीन टेस्टों की श्रंखला में 172 रन बना लेते हैं तो वह लारा का रिकॉर्ड तोड़ देंगे। सचिन चोट के कारण दो एकदिवसीय श्रंखलाओं में नहीं खेल सके थे। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले चुके लारा के 131 टेस्टों में 52.88 के औसत से 11रन हैं। जबकि मास्टर ब्लास्टर 147 टेस्टों में 55.31 के औसत से 11782 रन बना चुके हैं। सचिन इस वर्ष दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीन टेस्टों की घरेलू श्रंखला में ही यह रिकॉर्ड तोड़ सकते थे। लेकिन ग्रोइन चोट के कारण उन्हें आखिरी दो टेस्ट मैचों से बाहर हो जाना पड़ा था। इस तरह वह अपनी जमीन पर यह विश्व रिकॉर्ड अपने नाम करने से चूक गए। भारतीय टीम श्रीलंका दौरे के लिए यहां एकत्र हुई है और सोमवार को यहां नेट अयास करने के बाद 15 जुलाई को श्रीलंका दौरे के लिए रवाना होगी। भारत ही क्यों पूरी दुनिया के क्रिकेट प्रेमियों की नजरं इस श्रंखला पर टिकी रहेंगी कि मास्टर ब्लास्टर एकदिवसीय क्रिकेट के बाद टेस्ट क्रिकेट में भी रनों के एवरेस्ट पर पहुंच जाएंगे। सचिन के करियर के लिए यह श्रंखला मील का पत्थर साबित होने जा रही है। हालांकि सचिन ने अपने करियर में ढेरों कीर्तिमान बना दिए हैं जिन तक पहुंचना किसी भी अन्य बल्लेबाज के लिए कठिन चुनौती होगा। लेकिन सचिन इस दौरे में निश्चित रूप से लारा का रिकॉर्ड तोड़ना चाहेंगे। 15 नवंबर 1ो कराची में पाकिस्तान के खिलाफ अपना टेस्ट करियर शुरू करने वाले 35 वर्षीय सचिन लगभग 1वर्ष क्रिकेट के मैदान में गुजार चुके हैं। इस दिग्गज बल्लेबाज ने कई उतार चढ़ाव देखे हैं। (प्रेट्रवार्ता)ड्ढr

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: श्रीलंका में अपना बेस्ट दूंगा-सचिन