अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अमर ने चलाया टेप, यूपी सरकार बोली पुराना

सपा महासचिव अमर सिंह न रविवार को मुंबई में टेप दिखाकर यह साबित करने की कोशिश की कि यूपी की मुख्यमंत्री मायावती उन्हें और फिल्म स्टार अमिताभ बच्चन को फंसाना चाहती हैं। वहीं यूपी सरकार ने कहा कि यह टेप पुराना लगता है जिसकी जांच पहले से चल रही है। उसने यह भी कहा सिंह ने जिन जस्टिस सेमा के यूपी राज्य मानवाधिकार आयोग के अध्यक्ष पद पर नियुक्ित को लेकर सवाल उठाए हैं, उनकी चयन प्रक्रिया में पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव भी शामिल रहे हैं।ड्ढr ड्ढr अमर सिंह ने मुंबई में प्रस कांफ्रंस मं एक सीडी दिखाई जिसमें उनके खिलाफ एक मामल की जांच करन वाल पुलिस इंस्पक्टर कक द्विवदी को यह कहत हुए दिखाया गया है कि मुझ पता है कि आप (अमर) निर्दोष हैं, लकिन मायावती का आदश है कि किसी भी तरह स अमर और अमिताभ को फंसाया जाए। सीडी मं द्विवेदी ने यह भी कहा है कि अमिताभ दश की धरोहर हैं। उन्हं राजनीति की वजह स फंसाया जा रहा है। हालांकि वह मामला क्या है जिसकी जांच पुलिस कर रही है, सिंह ने खुलासा नहीं किया। इधर रविवार को ही यूपी के प्रमुख सचिव गृह फतेह बहादुर सिंह और डीाीपी विक्रम सिंह ने कहा कि इसी सीडी को लेकर 13 मई को सरकार ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया था कि एक वरिष्ठ नेता के रिश्तेदार के अवैध तरीके से बस चलवाने का एक मामला दर्ज कराया गया था, जिसकी जांच के लिए द्विवेदी कोलकाता गए थे, जहां उन्होंने कुछ अनर्गल बात की थी। इसकी जांच चल रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: अमर ने चलाया टेप, यूपी सरकार बोली पुराना