DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पीसीबी ने खुद को आसिफ से अलग किया

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के दौरान प्रतिबंधित दवा के सेवन के दोषी पाए गए अपने तेज गेंदबाज मोहम्मद आसिफ से किनारा कर लिया है। पीसीबी ने दो टूक शब्दों में कहा है कि अपने ऊपर आई नई मुसीबत से आसिफ खुद ही निपटें। पीसीबी के एक शीर्ष अधिकारी ने बताया कि प्रतिबंध लगने की सूरत में पीसीबी इस बार पिछले मौकों की तरह आसिफ की कोई मदद नहीं करेगा। पीसीबी के मुख्य ऑपरेटिंग अधिकारी शफकत नगमी ने कहा कि डोपिंग के दोषी पाए गए खिलाड़ियों के लिए हमारी नीति बिल्कुल साफ है। हम आसिफ की कोई मदद नहीं करेंगे। दो साल पहले जब आसिफ और शोएब अख्तर प्रतिबंधित दवा नेंड्रोलोन के सेवन के दोषी पाए गए थे, तब आईसीसी ने उन पर दो साल का प्रतिबंध लगाया था। इसके बावजूद पीसीबी ने खुलकर अपने खिलाड़ियों की मदद की थी। बोर्ड ने उन्हें हर तरह की कानूनी मदद मुहैया कराई थी। इसके अलावा बोर्ड ने पिछले महीने दुबई में नशीला पदार्थ रखने के आरोप में पकड़े गए आसिफ को एक बार फिर कानूनी मदद मुहैया कराई। इन तमाम घटनाओं में पीसीबी के रुख को लेकर नगमी ने कहा कि अब हम ज्यादा नकारात्मक प्रचार नहीं झेल सकते। नगमी ने कहा कि पीसीबी ने आसिफ को चैंपियंस ट्राफी के लिए चुनी गई संभावित टीम से हटाने का फैसला कर लिया गया है। इससे पहले, सोमवार को आईपीएल के अध्यक्ष ललित मोदी ने आधिकारिक तौर पर साफ कर दिया कि आईपीएल में दिल्ली डेयरडेविल्स टीम का प्रतिनिधित्व करने वाले आसिफ आईपीएल के दौरान प्रतिबंधित दवा के सेवन के दोषी पाए गए हैं।आईपीएल ने वाडा से प्राप्त रिपोर्ट के आधार पर यह घोषणा की। इस जुर्म के लिए आसिफ पर आजीवन प्रतिबंध लगाया जा सकता है। मोदी ने कहा कि इस संबंध में पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) और दिल्ली डेअरडेविल्स टीम का मालिकाना हक रखने वाली फ्रेंचाइजी कंपनी जीएमआर को सूचित कर दिया गया है। मोदी ने हालांकि पीसीबी या डीएमआर को यह नहीं बताया कि आसिफ ने किस प्रतिबंधित दवा का सेवन किया था। आसिफ अब आईपीएल से अपने बी-नमूने की जांच का निवेदन कर सकते हैं। बी-नमूने की जांच के बाद आसिफ को आईपीएल के नशा विरोधी न्यायाधिकरण के सामने पेश होना होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पीसीबी ने खुद को आसिफ से अलग किया