अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भाजपा का दावा, कांग्रेसी संपर्क में

ेन्द्र सरकार को गिराने के लिये एनडीए के कुनबे को दुरुस्त करने के अभियान में भारतीय जनता पार्टी युद्ध स्तर पर जुट गई है। एनडीए में कमजोर कड़ी के रूप में माने जा रहे शिरोमणी अकाली दल को घेरने के लिये भाजपा के शीर्ष नेता लगे हुये हैं। बेशक पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने परमाणु करार पर एनडीए के साथ रहने की बात कही है। लेकिन अकाली दल में इस मसले को लेकर मतभेद बने हुये हैं। सूत्र बताते हैं कि मतदान के वक्त कुछ अकाली सांसद गैर हाजिर रह सकते हैं। इसी के साथ भाजपा गैर कांग्रेसी और यूएनपीए में बचे घटक दलों को जोड़ने के लिये भी रणनीति बनाने में लगी है। इस बाबत पार्टी की कोर कमेटी की प्रतिदिन पार्टी के पीएम उन वेटिंग लालकृष्ण आडवाणी के निवास पर बैठक हो रही है। पार्टी ने विश्वास मत प्रस्ताव के खिलाफ मतदान करने के लिये अपने सासंदों को तीन लाइन का व्हिप भी जारी कर दिया है। पार्टी ने यह दावा भी किया है कि जल्द ही एनडीए के घटक दल भी व्हिप जारी कर देंगे। भाजपा संसदीय दल के प्रवक्ता विजय कुमार मल्होत्रा ने खुलासा किया कि कांग्रेस में भी परमाणु करार के खिलाफ सोचने वाले कई सांसद हैं। उन्होंने बताया कि ऐसे ही कई कांग्रेसी सांसद उनके संपर्क में हैं। उन्होंने यह भी बताया कि छोटे दलों और निर्दलीय सांसदों के साथ पार्टी संपर्क में है। उन्होंने विश्वास जताया कि 22 जुलाई को हर हाल में यूपीए सराकार गिर जायेगी और वह 250 का आंकड़ा भी नहीं छू पायेगी। पार्टी किन दलों और सांसदों के संपर्क में है, इस बात का खुलासा करने से उन्होंने साफ मना कर दिया। एनडीए सांसदों के मौके पर गैर हाजिर रहने की अफवाहों के बीच भाजपा ने संसद सत्र की शुरूवात की पूर्व संध्या पर आडवाणी के निवास पर एनडीए सांसदों का एक भोज भी रखा गया है। आगे की रणनीति बनाने के लिये 17 जुलाई को एनडीए शासित रायों के मुख्यमंत्रियों की बैठक दिल्ली में बुलाई गई है। सांसदों को मतदान के दिन उपस्थित रहने के लिये मुख्यमंत्रियों को इस बैठक में विशेष निर्देश दिये जायेंगे। मल्होत्रा ने आरोप लगाया कि कांग्रेस सरकार बचाने के लिये सांसदों की खरीद फरोख्त में जुटी है। किसी को मंत्रिमंडल में शामिल करने का प्रलोभन दिया जा रहा है तो किसी को धन का लालच। उन्होंने सीबीआई पर अविश्वास जताते हुये मांग की कि इस खरीद फरोख्त की जांच होनी चाहिये। उन्होंने कहा कि यदि ये सरकार इसकी जांच नहीं कराती तो बाद में हम इसकी जांच करायेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: भाजपा का दावा, कांग्रेसी संपर्क में