DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

टूटे दिलों के बीच सेतु का निर्माण : नीतीश

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि सरकार केवल नदियों और सड़कों पर ही पुल नहीं बना रही है बल्कि टूटे दिलों के बीच भी सेतु का निर्माण कर रही है। इससे न केवल बिखरा समाज एकाुट होगा बल्कि बिहार का विकास भी होगा। मुख्यमंत्री अपने आवास पर वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिये भागलपुर और कटिहार में निर्मित दो पुलों का लोकार्पण कर रहे थे। भागलपुर में भागलपुर-कहलगांव-मिर्जाचौकी पथ में गेरुआ नदी पर मी. लम्बा उच्चस्तरीय आरसीसी पुल बना है जबकि कटिहार में पूर्णिया-कदवा-आबादपुर पथ में महानंदा नदी पर 57मी. लम्बा उच्चस्तरीय झौआ पुल बना है।ड्ढr ड्ढr मुख्यमंत्री ने कहा कि अस्वस्थता के कारण वे पुल पर नहीं जा सके लेकिन उद्घाटन के लिए इंतजार नहीं किया जा सकता था। भागलपुर में पुल का निर्माण एक जमाने से चल रहा था। यह पुल जनहित के लिए जरूरी था। इसके नहीं बनने से लोगों को काफी कठिनाई हो रही थी। पीपा पुल के कारण आवागमन बार-बार बंद हो जाता था। पथ निर्माण विभाग ने काफी परशानी उठाकर इस पुल का निर्माण किया। उन्होंने विभाग के अधिकारियों को सलाह दी कि वे यहां हुई दिक्कतों के अनुभव पर किताब लिखें। उन्होंने कहा कि सरकार मुख्यमंत्री सेतु योजना के तहत हाारों पुल-पुलियों का निर्माण कर रही है।ड्ढr ड्ढr पथ निर्माण मंत्री प्रेम कुमार ने कहा कि यह एक ऐतिहासिक दिन है जब एक साथ दो पुलों का लोकार्पण हो रहा है। दोनों पुलों से भागलपुर और कटिहार के लोगों के लिए आवागमन सुविधाजनक हो जाएगा। पथ निर्माण विभाग के प्रधान सचिव आर.के. सिंह ने दोनों पुलों के निर्माण को माइलस्टोन करार दिया। इस अवसर पर पुल निर्माण निगम के अध्यक्ष प्रत्यय अमृत भी मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: टूटे दिलों के बीच सेतु का निर्माण : नीतीश