DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नकली पास्टरों ने ठगे एक करोड़

झारखंड में सक्रिय नकली पास्टरों ने 10 हाार से भी ज्यादा लोगों से एक करोड़ से अधिक की रकम ठग ली है। यह ठगी बच्चों को मुफ्त शिक्षा और उन्हें वजीफा देने के नाम पर की गयी, इसके शिकार बने रांची सहित विभिन्न जिलों के भोले-भाले लोग। इसकी जानकारी होने पर चर्च और इससे जुड़ी संस्थाओं के लोग हैरान हैं। झारखंड मिशन एसो. और ऑल इंडिया क्रिश्चियन कांउसिल ने इस मुद्दे पर आपात बैठक की। इसमें ठग नकली पास्टरों को चिह्नित किया गया। इस नेटवर्क के कर्ता-धर्ता के रूप में निर्मल, रवि कुमार, जोसफ बोदरा, श्रवण कुाूर, प्रदीप मड़की, मथियस कुाूर आदि के नाम सामने आये हैं। मामले की जानकारी पुलिस को भी दे दी गयी है। संभवत: देर रात तक ठगी करनेवालों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया जायेगा।ड्ढr नकली पास्टरों ने फांसने के लिए गुड शेफर्ड मिनस्ट्री और जेम्स जसी मसीही संस्थाओं के नाम का इस्तेमाल किया है। नकली पास्टरों के इस नेटवर्क ने रांची के बनहोरा, पंडरा, बालूमाथ, लातेहार, चंदवा, सिमडेगा, भंडरा और संताल परगना के हाारों लोगों से संपर्क साधा और उनके बच्चों को मुफ्त में शिक्षा और वजीफे का लालच दिया। लोगों को कहा गया कि इसके लिए रािस्ट्रेशन कराना जरूरी है। फिर रािस्ट्रेशन के नाम पर प्रत्येक से 750 से लेकर 2000 रुपये की उगाही की गयी। सिर्फ गुड शेफर्ड से मिलते-ाुलते नाम की ही एक संस्था द्वारा 6000 लोगों से ठगी का आरोप है। शिकार बने ज्यादातर लोग ईसाई हैं। महीनों बाद भी जब लोगों को मुफ्त शिक्षा और छात्रवृत्ति की कथित योजना का लाभ नहीं मिला तो उन्होंने चर्च से जुड़ी संस्थाओं को इसकी सूचना दी। ठगी के इस मामले को लेकर एजी चर्च कांटाटोली में हुई बैठक में जेएमए के उपाध्यक्ष ब्रदर वाचमैनी जॉब, रसिकन टोपनो, सेक्रेटरी पास्टर जॉन टोप्पो, ज्वाइंट सेक्रेटरी पास्टर टॉमसन थॉमस, ट्रेारर पास्टर राजू सोरन, एक्ाीक्यूटिव मेंबर पास्टर डीके एक्का, पास्टर अनिल रवन, पास्टर जॉय कुट्टी, पास्टर सुनील कच्छप और बिशप ओके तिर्की शामिल थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: नकली पास्टरों ने ठगे एक करोड़