DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोई है जो गिरा रहा है शेयर : रैनबैक्सी

रैनबैक्सी लेबोरट्रीा ने बुधवार को अपने विरधियों पर निशाना साधते हुए कहा कि उसके शेयर जानबूझ कर एक सोची-समझी चाल के तहत गिराए जा रहे हैं। रैनबैक्सी के चेयरमैन और एमडी मलविंदर मोहन सिंह ने कहा कि एक बहुराष्ट्रीय कंपनी और एक अग्रणी भारतीय कंपनी अमेरिकी एफडीए द्वारा की जा रही कार्यवाही की आंड़ में कंपनी के शेयरों को जानबूझ कर गिरा रही है। मलविंदर ने आरोप लगाया कि ये कंपनियां मिलकर इस सोच के तहत काम कर रही हैं कि जब शेयर के दाम काफी नीचे चले आएंगे तो वे इस काउंटर में प्रवेश कर लेंगी। इसी के चलते बाजार में भ्रम फैलाया जा रहा है। बहरहाल सिंह ने विरोधियों के नाम का खुलासा करने से इनकार कर दिया। मलविंदर ने बताया कि कंपनी मार्केट से आंकड़े जुटा रही है ताकि शेयरों को जबरन गिराने वाले उनके विरोधियों को सही जगह पर बेनकाब किया जा सके। सिंह ने डायची के साथ हो रहे सौदे के बार में कहा कि उसे लेकर कोई परशानी नहीं है। अमेरिका में कारोबार जारी रहेगा। अमेरिकी अथॉरिटीा ने उनसे सिर्फ जानकारी मांगी है जो उन्हें उपलब्ध करा दी जाएगी। सिंह ने साफ तौर पर कहा कि डायची के साथ हुए सौदे में किसी प्रकार का एगिट क्लॉज नहीं है। कंपनी की तरफ से जापानी कंपनी के साथ सौदे के बारे में अटकलों को खारिज किए जाने के बाद रैनबैक्सी का शेयर बुधवार को 15.02 प्रतिशत अर्थात 61.45 रुपए की छलांग से 470.70 रुपए पर पहुंच गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कोई है जो गिरा रहा है शेयर : रैनबैक्सी