DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्टांप घोटाला: तेलगी को सात साल की सजा

रोडों के फर्जी स्टांप घोटाले के प्रमुख आरोपी अब्दुल करीम तेलगी और सात अन्य आरोपियों को सीबीआई मामलों के विशेष न्यायाधीश ने शुक्रवार को सात साल कैद की सजा सुनाई। सीबाआई द्वारा यह मामला 1में दायर किया गया था। 35वें अतिरिक्त सिविल एवं सत्र न्यायाधीश चंद्रशेखर पाटिल ने इसी मामले में पुलिस के पूर्व सहायक आयुक्त संग्राम सिंह को भी तीन साल की कैद की सजा सुनाई। संग्राम को 15 अप्रैल को इस मामले में दोषी करार दिया गया था। न्यायाधीश ने इसके अतिरिक्त तेलगी और अन्य सात दोषियों 50 हजार रुपए का जुर्माना लगाया जबकि संग्राम पर 25 हजार रूपए का जुर्माना लगा। यह मामला 30 अप्रैल 1ो एक होटल पर छापा मारने के बाद दायर किए गए आरोपपत्र से जुड़ा हुआ है। पुलिस अधिकारी संग्राम पर आरोप है कि उहोंने मामले को प्रभावित करने के लिए इसके तथ्यों के साथ छेड़छाड़ की थी। इस कारण संग्राम को पहले निलंबित कर दिया गया और फिर उन्हें सेवा से मुक्त कर दिया गया था। इस सजा को सुनाए जाने के समय संग्राम के परिवार के सदस्य मौजूद थे। उन्होंने संग्राम को कम समय की कैद मिलने पर राहत की सांस ली लेकिन साथ ही कहा कि वे हाई कोर्ट में अपील करेंगे। गत 28 जून 2007 को स्टांप घोटाले के प्रमुख मामले में तेलगी को 13 साल की कड़ी कैद और 202 करोड़ रुपए जुर्माने की सजा सुनाई गई थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: स्टांप घोटाला: तेलगी को सात साल की सजा