अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पानी के लिए बौआ रहे हैं बम

मेला विधिवत तो शनिवार को शुरू होगा लेकिन गुरुवार से ही सुल्तानगंज में कांवरियों का रला लगा हुआ है। बोल बम की जयकारा से चारों दिशाएं गूंज रही हैं। दुकानें सज गई हैं। जहाज घाट। सुबह आठ बजे हैं। सूरत (गुजरात) के हरि सिंह अपने दो लड़कों के साथ चाय दुकानवाले से कह रहे हैं चारों तरफ पानी खोजकर थक गया। 15 साल में पहली बार देख रहा हूं न घाट ठीक है और न रास्ता। भाई। पहले जल्दी से पानी पिलाओ फिर चाय। चाय दुकानदार अजय यादव कहता है ‘सब बम लोग पानी के लिए बौआ (भटक) रहा है।ड्ढr ड्ढr अबकी बार मेला पर प्रशासन का कोई ध्यान नहीं है।’ दुकान पर खड़े मुरली, शंकर, विनोद जसे स्थानीय लोग बता रहे हैं कि चापाकल खराब हैं या उनमें गंदा पानी आ रहा है। वहीं खड़े मो.शमशुल कहते हैं ‘एतना खराब हालत किसी मेला में नहीं था। ढंग से सफाई तक नहीं हुआ है।’सचमुच अभी तक गंगा घाट को समतल तक नहीं किया गया है। नही पानी में गड़े पोल में सीकड़ लगा है और न बैरीकेटिंग की गई है। इससे लोगों के डूबने का खतरा बना रहेगा। पिछली बार की तरह सुरक्षा नौकाएं भी अभी कहीं नहीं दिखीं। अधूरा पड़ा अजगैबी नाथ पुल तो इस बार कांवरियों के लिए भारी परशानी का सबब बन गया है। इसको बनाने के लिए जहां-तहां पत्थर, लोहा- लक्कड़ पानी में बिखर हैं। सबसे बड़ी समस्या कांवरियों के ठहराव की है। नयी सीढ़ी घाट पर चार जर्जर सामुदायिक शेडों में एक में सरकारी कैंप खुल जाता है। नगर परिषद के धर्मशाला में नीचे दुकानें हैं। केवल एक हॉल में कावंरिया भेड़ बकरियों की तरह ठुंसे हुए हैं। भवन निर्माण विभाग ने कहा था कि दो अतिथिशाला 1ाुलाई तक बन जाएंगी लेकिन ऐसा नहीं हुआ। इसका फायदा उठाकर प्राइवेट होटल कांवरियों का जमकर आर्थिक दोहन कर रहे हैं। हरियाणा के नाथूराम, जंगबहादुर, सिलीगुड़ी के विशु और प्रसनजीत बताते हैं कि होटलों में रूम के अलावा शौचालय का 5 रु., नहाने का 8 रु., पार्किंग का 50 रु. और ठहरने का अलग से लिया जा रहा है।ड्ढr ड्ढr लोग बता रहे हैं सप्लाई का पानी दो दिन से बंद है। दिन में बिजली नहीं नहीं रहती। रात में दो-तीन घंटे के लिए आती है। इस बार एक बल्ब तक नहीं लगा है। जल उठाकर देवघर की ओर चलने पर कांवरियों को सबसे अधिक कठिनाई रलवे ओवर ब्रिज के नीचे सड़क पर हो रही है। यहां कीचड़ जमा है। हालांकि इरकोन के ठेकेदार इसको दुरुस्त करने में भिड़े हुए हैं।ड्ढr ड्ढr कल से शुरू होगा शिवभक्तों का महाकुंभड्ढr भागलपुर देवघर जरमुंडी (हिटी)। श्रावणी मेला 1जुलाई से शुरू हो रहा है। शनिवार को पूर्वाह्न् ग्यारह बजे बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी सुल्तानगंज में मेला का उद्घाटन करंगे जबकि शुक्रवार को झारखंड के मुख्यमंत्री मधु कोड़ा देवघर और बासुकीनाथ में मेला का उद्घाटन करंगे। मेले में आनेवाले तीर्थयात्रियों को परशानी नहीं होगी, ऐसा जिला प्रशासन ने दावा किया है। इस बार रोजाना सुल्तानगंज में गंगा महासभा की ओर से गंगा आरती की जाएगी।ड्ढr ड्ढr डाक कांवरियों को परिचय पत्र देने पर अबतक कोई निर्णय नहीं लिया गया है। रलवे ओवर ब्रिज के नहीं बन पाने की वजह से परेशानी है। इसलिए सुल्तानगंज -देवघर पथ में एकतरफा यातायात का निर्णय लिया गया है। तारापुर की ओर से आनेवाले वाहनों को असरगंज के आगे से मोड़ दिया जाएगा। सभी सड़कों को मोटरबल बना दिया गया है। घोरघट बेलीब्रिज को बस व छोटे वाहनों के लिए खोल दिया गया है। उधर देवघर के उपायुक्त ने बताया कि बाबा मंदिर प्रांगण में 20 व बाहर में 4 क्लोज स*++++++++++++++++++++++++++++र्*ट टी.वी. के माध्यम से पूरी व्यवस्था पर नजर रखी जाएगी। उमा भवन व संस्कार मंडप में भी सुरक्षा-व्यवस्था के पुख्ता इंतजामात किये गये हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पानी के लिए बौआ रहे हैं बम