अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पूर्णिया सदर अस्पताल में दो रोगियों की मौत के बाद हंगामा

सदर अस्पताल में एक रोगी की मौत के बाद परिजनों ने न केवल हंगामा किया बल्कि अस्पतालकर्मियों से बदसलूकी भी की। उग्र परिान जब हंगामा कर रहे थे उसी दौरान एक और रोगियों की मौत हो गयी जिसके बाद अस्पताल परिसर में मौजूद लोगों ने वहां मौजूद एक चिकित्सक पर हमला किया किन्तु डाक्टर वहां से भाग निकले। बाद में पुलिस के पहुंचने पर मामला शांत हुआ। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि बुधवार की रात चूनापुर गांव के ओली टोला से गंभीर अवस्था में भगवान साह नामक एक रोगी को भर्ती कराया गया था।ड्ढr ड्ढr गुरुवार को अपराह्न् उक्त रोगी की मौत हो गयी। अस्पताल के कर्मचारियों की मानें तो सुबह उक्त रोगी को सिटी स्कैन के नाम पर परिजन बाहर ले गये थे। लौटने के बाद उनकी हालत और खराब हो गयी थी। बताया गया कि भगवान दिमागी रोग से ग्रसित था। मगर परिजनों ने इलाज में लापरवाही का आरोप लगाते हुए हंगामा शुरू कर दिया। संयोगवश इस बीच एक अन्य रोगी असरफी शर्मा की भी मौत हो गयी जिसने आग में घी डालने का काम किया। परिजनों ने वहां तैनात डाक्टर को दूर तक खदेड़ दिया। सदर अस्पताल के उपाधीक्षक डा. रामदेव दास ने बताया कि सूचना मिलते ही एसडीओ आरपी सिंह रंजन एवं केहाट थानाध्यक्ष सशस्र् पुलिस बल के साथ पहुंच गये और स्थिति को नियंत्रित किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पूर्णिया सदर अस्पताल में दो रोगियों की मौत के बाद हंगामा