DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भाजपा को सोरेन ने दिया झटका

यूपीए सरकार के विश्वासमत के खिलाफ सांसदों की जोड़ तोड़ में जुटी भारतीय जनता पार्टी को उस समय भारी झटका लगा, जब झारखंड मुक्ित मोर्चे के अध्यक्ष शिबु सोरन ने पार्टी से हाथ मिलाने से इंकार कर दिया। पार्टी ने सोरन को झारखंड का मुख्यमंत्री बनाने का आश्वासन दिया था। सूत्रों के अनुसार सोरन भाजपा के इस प्रस्ताव को मानने के लिये तैयार हो गये थे, लेकिन पार्टी के अन्य सांसदों ने सोरन के इस प्रस्ताव को ठुकरा दिया। इन सांसदों का कहना था कि आप तो मुख्यमंत्री बन जायेंगे, लेकिन हमें क्या मिलेगा। नतीजतन अब सोरन यूपीए सरकार को बचाने के लिये तोलमोल करने के लिये बाध्य हो गये हैं। इस झटके से तिलमिलाई भाजपा ने शुक्रवार को कांग्रेस पर जम कर हल्ला बोला। पार्टी ने प्रधानमंत्री कार्यालय और सोनिया गांधी के निवास को सांसदों की खरीद फरोख्त की मंडी करार देते हुये कहा कि सरकार बचाने के लिये सभी घटिये तरीके अजमा रही है। भाजपा संसदीय दल के प्रवक्ता प्रो. विजय कुमार मल्होत्रा ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह की कुर्सी बचाने के लिए पंजाब में कांग्रेसी नेता सिख पगड़ी और धर्म के नाम पर वातावरण को दूषित कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि पंजाब की पूर्व मुख्यमंत्री राजिन्दर कौर भट्टल ने सांसदों से सार्वजनिक अपील की है कि पगड़ी और मनमोहन की इज्जत रखी जाए। पूर्व मुख्यमंत्री अमरिन्दर सिंह ने भी पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल को पत्र लिखकर अनुरोध किया है कि अकाली दल सिख प्रधानमंत्री को हटाने का काम न करें। संसद में यूपीए सरकार को गिराने की कमान स्वयं पार्टी के पीएम इन वेटिंग लालकृष्ण आडवाणी ने संभाल रखी है। आडवाणी के सलाहकारों से लेकर एनडीए शासित राज्यों के मुख्यमंत्री सांसदों को अपने पाले में लाने की कोशिशों में जुटे हैं। फिलहाल अभी उन्हें कोई बड़ी सफलता मिलती नहीं दिख रही है। विपरीत इसके पार्टी इस कोशिश में भी जुटी है कि एनडीए का कोई सांसद मतदान में हिस्सा लेने से छूट न जाये। पूर्व प्रधानमंत्री अटलबिहारी वाजपेयी को बीमारी के बावजूद संसद में लाने की कोशिशें की जा रही हैं। श्री मल्होत्रा ने बताया कि लोकसभा सचिवालय के सम्बध्द अधिकारियों से बातचीत हुई है तथा उन्हें लाने ले जाने के लिए व्हीलचेअर की व्यवस्था की गई है। फिल्म अभिनेता तथा राजस्थान में बीकानेर से लोकसभा के सांसद धर्मेन्द्र, जो अपने घुटने का आपरेशन कराने अमेरिका गए हुए है, डाक्टरों की सलाह के बाद उन्हें दिल्ली लाए जाने का प्रयास किया जा रहा है। इसी तरह भाजपा के गुजरात से सांसद महेश कनोडिया की बाईपास सर्जरी हुई है उन्हें भी सदन में मतदान के लिए लाने का प्रबंध किया जा रहा है। महाराष्ट्र में मालेगांव के हरिशचन्द्र चव्हाण दुर्घटना में घायल हो गए थे उन्हें भी यहां लाने की व्यवस्था की जा रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: भाजपा को सोरेन ने दिया झटका