DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सांसत में पड़ी सरकार

यूपीए के लिए चिंता का सबब बन गई है समाजवादी पार्टी और रल मंत्री लालू यादव की पार्टी-राष्ट्रीय जनता दल। इन दो दलों के कुछ सांसदों के रंगढंग ठीक नजर नहीं आ रहे। लेफ्ट को छोड़कर सपा का साथ तो यूपीए को मिला लेकिन शुक्रवार को हुई सपा संसदीय दल बैठक से 23 सांसद अनुपस्थित थे। पार्टी ने कहा कि बैठक में न आने वाले सांसदों में से कुछ निलंबित हैं, कुछ बागी हैं जबकि बाकी जरूरी काम पड़ने के कारण पार्टी को सूचना देकर नहीं आए।ड्ढr ड्ढr बैठक के बाद मुलायम व अमर ने दावा किया कि 3 विद्रोहियों को छोड़कर सभी सांसदों के सपा के साथ वोट करने की गारंटी है। अतीक और अफजल को लेकर अटकलें बेकार हैं, वे हमार साथ ही हैं। अमर तो यह भी बोले कि हमार तीन-चार सांसद कम हो रहे हैं, उससे अधिक का हमने इंतजाम कर लिया है। पर सपा के विद्रोही सांसद मुनव्वर हसन का दावा कुछ और है। उन्होंने कहा कि वे व्हिप का उल्लंघन कर मतदान करंगे और दो अन्य सांसद- बुधोलिया एवं जयप्रकाश सहित बसपा में जाएंगे। सपा, कांग्रेस तथा आरएलडी के सात और सांसद उनके संपर्क में हैं जो सरकार के खिलाफ वोट कर सकते हैं। यही हाल राजद का है। उसके 4 सांसद नीतीश कुमार के संपर्क में माने जाते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सांसत में पड़ी सरकार