DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कांग्रेस की भी पेशानी पर बल

ोयला मंत्रालय के आश्वासन के साथ झामुमो के अध्यक्ष शिबू सोरन के सध जाने, तीन सदस्यों वाले जदएस के अध्यक्ष पूर्व प्रधानमंत्री देवेगौड़ा के साथ प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की सकारात्मक बातचीत से उत्साहित कांग्रेस और यूपीए के लोगों ने विश्वास प्रस्ताव पर 275 से 280 सदस्यों के समर्थन का दावा करना शुरू कर दिया है। लेकिन कुछ कांग्रेस सांसदों को लेकर पार्टी नेतृत्व के पेशानी पर बल भी पड़ रहे हैं। देवेगौड़ा शनिवार को यहां प्रधानमंत्री से सीधी बात करंगे।ड्ढr ड्ढr लेकिन जदएस के विद्रोही सांसद एमपी वीरंद्र कुमार दिन में देवगौड़ा के साथ हो गए थे, रात तक फिर पलट गए। कांग्रेस सूत्रों के अनुसार चौधरी अजित सिंह से भी बात हो चुकी है। कांग्रेसी सूत्र नेशनल कान्फ्रेंस के दो सदस्यों भी समर्थन मिलने या वोटिंग से एब्सटेन करने के प्रति आश्वस्त हैं। बीजेडी के कुछ सांसदों पर भी कांग्रेस की नजर है। कांग्रेस की ताकत एनडीए में सेंध लगाने में लगी है लेकिन उसे अपना घर ठीक करने में पसीने छूट रहे हैं। करनाल के अपने सांसद अरविंद शर्मा को तो हरियाणा के मुख्यमंत्री भूपिंदर सिंह हुड्डा ने संसद के सेंट्रल हॉल में एकांत में बिठाकर समझा लिया है लेकिन हरियाणा से करीब दो और सांसद कांग्रेस को बाय कहने वाले हैं। कर्नाटक में पार्टी के 3 सांसद-आरएल जलप्पा, अंबरीश व तेजेश्वरी भाजपा के संपर्क में माने जाते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कांग्रेस की भी पेशानी पर बल