अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बाबाओं को लेकर मचा बवाल

हरियाणा में सिरसा जिले के डबवाली शहर में शुक्रवार को डेरा सच्चा सौदा समर्थकों और सिखों के बीच संघर्ष में एक व्यक्ित की मौत हो गई। इसस गुस्साए सिखां न डरा समुदाय क लागां की दुकानं फूंक दीं। स्थिति पर काबू पान क लिए डबवाली मं कफ्यरू लगा दिया गया है। हरियाणा और पंजाब मं अलर्ट घाषित कर दिया गया है। साथ ही दानां राज्यां का जाड़न वाली सीमाआं का पूरी तरह सील कर दिया गया है। शुक्रवार की सुबह डेरा सच्चा सौदा समर्थकों के एक धार्मिक आयोजन नाम चर्चा का कुछ सिखों ने विरोध किया। सिखों न कार्यक्रम सार्वजनिक स्थल क बजाए अपन—अपन घरां मं करन का कहा।ड्ढr ड्ढr इसी बात का लकर दानां पक्षां मं विवाद हा गया। विवाद क दौरान सिख समुदाय क एक व्यक्ति की मौत हा गई। इसक बाद सिख समुदाय के लागां न डरा समर्थकां की 15 दुकानां मं आग लगा दी और भारी पथराव किया। सिखां न भारी उत्पात मचात हुए हाईव जाम कर दिया। डबवाली स शुरू हुआ विवाद सिरसा तक जा पहुंचा और यहां स भी दानां समुदायां क बीच स्थिति तनावपूर्ण हान क समाचार हैं। पुलिस न इस मामल मं दानां समुदाय क करीब 10 लागां क खिलाफ मामला दर्ज किया है। उपायुक्त वी़ उमाशंकर ने बताया कि आमतौर पर डेरा के लोगों द्वारा जब किसी नामचर्चा का आयोजन किया जाता है तो हमें उसकी जानकारी दी जाती है लकिन इस बार उन्होंने हमें कोई सूचना नहीं दी जिसकी वजह से हमन कोई इंतजाम नहीं किया। उपायुक्त ने बताया कि डबवाली और डेरा मुख्यालय सिरसा में तनाव का माहौल है। उन्होंने बताया कि रैपिड एक्शन फोर्स की दा कंपनियों सहित अतिरिक्त बलों को इन दोनों स्थानों पर तैनात किया गया है ताकि कोई और अप्रिय घटना न हो। पंजाब के एडीाी चंद्रशेखर ने चंडीगढ़ में बताया कि हम हर किसी से शांति बनाए रखने में सहयोग की अपील करते हैं। आसाराम बापू समर्थकों ने पत्रकारों को पीटाड्ढr अहमदाबाद (वि.सं.)। लाखों को गुरु दीक्षा देने वाले संत आसाराम बापू के खिलाफ शुक्रवार को यानी गुरु पूर्णिमा के दिन अहमदाबाद पूर्ण बंद रहा। इस बंद को बदनुमा बनाया हिंसा से आसाराम आश्रम में रहने वाले लोगों ने । शांति भंग करने का जिम्मा आसाराम समर्थकों ने अपने हाथों लेते हुए मीडिया को निशाना बनाया और कई पत्रकारों को घायल कर छोड़ा। समर्थकों ने महिला पत्रकारों को भी नहीं बख्शा। बारह दिन पहले आसाराम गुरुकुल के दो बच्चों दीपेश वाघेला और अभिषेक वाघेला के आश्रम से गायब होने के बाद उनकी कथित हत्या के विरोध में अहमदाबाद बंद था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बाबाओं को लेकर मचा बवाल