DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गर्दन की धंसी हुई हड्डी का सफल ऑपरशन

गुमला निवासी सूरा पासवान (60 वर्ष) अब अपने पैरों पर चल फिर पा रहे हैं। एक दुर्घटना में उनके गर्दन की हड्डी धंस गयी थी। इससे रीढ़ की हड्डी पर पड़ रहे दवाब के कारण उनके दोनों हाथ-पैर में असहनीय पीड़ा होती थी। साथ ही सूनापन, कमजोरी, झिनझिनाहट, अकड़ाहट और सांस लेने में भी तकलीफ थी। पिछले दिनों सेवा सदन में उनका ऑपरशन जाने-माने हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ संजय जयसवाल और न्यूरो सर्जन डॉ तरुण अडुकिया ने किया। ऑपरशन के बाद उनकी स्थिति में सुधार है और वे अब अपने पैरों पर चल- फिर पा रहे हैं।ड्ढr गुरुवार को संवाददाताओं से बातचीत में दोनों डॉक्टरों ने बताया कि मरीा कई जगहों पर इलाज के लिए गया। हालांकि उसे फायदा नहीं हुआ। सेवा सदन में आने के बाद उनलोगों ने उसका एमआरआइ कराया। इसमें पता चला कि गर्दन की हड्डी धंसी हुई है। ऑपरशन में एनेस्थेसिस्ट डॉ सुशील कुमार सिंह, प्रकाश शर्मा, उपेंद्र कुमार एवं केके पाठक ने भी सहयोग किया। डॉ जयसवाल ने बताया कि ऑपरेशन में काफी कम खर्च हुआ। बातचीत के दौरान सेवा सदन के अध्यक्ष आरके केडिया, सचिव ओम प्रकाश सर्राफ उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: गर्दन की धंसी हुई हड्डी का सफल ऑपरशन