DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राजरंग

डील पर हो रही डीलड्ढr केंद्र सरकार के शक्ित परीक्षण के लिए ज्यों-यों वक्त नजदीक पहुंच रहा है, नेताओं के दिल जोर-ाोर से धड़क रहे हैं। पता नहीं क्या होगा? सरकार रहेगी कि जायेगी। अभी तो छह महीने का वक्त था। अच्छा खासा काम-काज चल रहा था। इ अचानक डील-विल कहां से आ गयी। अब डील आ गयी तो उसके लिए लेफ्ट वाले राइट टर्न काहे ले लिये। जो करना था छह महीना के बादे करते। अब न इधर के रहे न उधर के। देश भर में हिंड़होर मचल है। जिसको देखो, मुंह उठाये वह इधर से उधर भागे फिर रहा है। आज यहां ब्रेकफास्ट कर रहा है, तो शाम को पड़ोस के साथ बैठकर चाय का मजा ले रहा है। हर पार्टी का कई गो छेदवा साफ दिखायी दे रहा है। चूहे की तरह सब इन छेदवन से कूद-फांद कर निकल रहे हैं। किसी को देश तो किसी को प्रदेश के विकास की याद सता रही है। डील के अंदर डील और डील के ऊपर डील हो रही है। यही मौका है। भंजा लेना है। नहीं तो कहां कौन किसे पूछता है। अभी जिसको देखो, वह तस्तरी में नास्ता सजाकर चला आ रहा है। आपको जो चाहिए वही मिलेगा। एक बार मांग कर तो देखो। काश, अयसने दिन बार-बार आये।ड्ढr

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: राजरंग