DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सोमनाथ पर दबाव, छोड़ सकते हैं पद

रविवार को माकपा की केन्द्रीय समिति ने निर्णय लिया कि सोम दा को लोकसभा में बहस से पहले ही इस्तीफा देना चाहिए। देर शाम पार्टी सांसदों ने सोमनाथ से मिलकर उन्हें केन्द्रीय समिति के फैसले से अवगत करा दिया। खबर है कि दबाव को देखते हुए सोमवार को होने वाली सर्वदलीय बैठक में चटर्ाी अपने इस्तीफे की घोषणा कर सकते हैं। उधर लोकसभा स्पीकर सोमनाथ चटर्ाी के पक्ष में बयान देने और भाजपा के साथ संसद में विश्वास मत के खिलाफ वोट देने का विरोध करने वाले पश्चिम बंगाल के कैबिनेट मंत्री सुभाष चक्रवर्ती को माकपा ने सख्त चेतावनी जारी कर दी है। पार्टी केंद्रीय समिति ने उन्हें सेंसर करते हुए कहा कि दल के संविधान से अनुशासनहीनता की तो उन्हें इसके नतीजे भुगतने के लिए तैयार रहना होगा। रामस्वरूप हुए बागी, गए यूपीए के साथड्ढr पटना (हि.ब्यू.)। नालंदा के जदयू सांसद रामस्वरूप प्रसाद यूपीए के पक्ष में जाएंगे। एटीमी डील को लेकर दिल्ली में चल रहे हाई वोल्टेज ड्रामा में श्री प्रसाद एनडीए से दूर चल रहे हैं। वे यूपीए नेताओं के गहर संपर्क में हैं। एक टीवी चैनल से बात करते हुए श्री प्रसाद ने कहा कि वे अपनी अंतरआत्मा की आवाज पर विश्वास मत के पक्ष में मतदान करंगे। इस्लामपुर विधानसभा चुनाव में अपने पुत्र को टिकट दिलाने के मुद्दे पर उन्होंने शीर्ष नेताओं को ही नाराज कर दिया था। हालांकि पार्टी ने उन्हें मनाने की कोशिश की है, लेकिन श्री प्रसाद अपनी राह चलने पर अड़े हुए हैं। पार्टी के थिंक टैंक श्री प्रसाद की पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद यादव से मुलाकात कराने की जुगत में हैं। उधर लक्षद्वीप के जदयू सांसद पी.पी. कोया के भी बागी होने की सूचना है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सोमनाथ पर दबाव, छोड़ सकते हैं पद