अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

टेंडर फाइनल होने तक 35 करोड़ का चूना

झारखंड में एक से चार अगस्त तक शराब दुकानों की बन्दोबस्ती के लिए रि-टेंडर होगा। इस संबंध में सीएम के दिशा निर्देश के बाद विभाग ने टेंडर की तिथि घोषित कर दी है। अगर टेंडर निर्धारित समय पर हो भी जाता है, तो उत्पाद राजस्व के रूप में सरकार को लगभग 35 करोड़ रुपये का चूना लगेगा। 15 जुलाई को सीएम ने शराब की खुदरा दुकानों की बंदोबस्ती के संबंध में विभागीय अधिकारियों को निर्देश जारी किया था। सरकार ने माना रांची, बोकारो और धनबाद में टेंडर नहीं होने से राजस्व की क्षति हुई है। उत्पाद आयुक्त सह सचिव जयंत मुनीगला ने बताया कि संशोधित उत्पाद नीति के तहत बंदोबस्ती की कार्रवाई फिर से हो रही है। अब पूर राज्य में जिलावार विज्ञापन प्रसारण की तिथि से बंदोबस्ती की कार्रवाई होगी। रांची, धनबाद और बोकारो का लाइसेंस फी सात करोड़ 42 लाख है। पूर्व के टेंडर में पलामू, लातेहार, गढ़वा, दुमका, देवघर और पाकुड़ में अनियमितता की शिकायतें मिली थी। इसकी समीक्षा विधानसभा की राजस्व समिति कर रही है।ड्ढr महत्वपूर्ण बात यह है कि हाइकोर्ट में दायर पीआइएल 1451 झ्र2008, विपिन कुमार महतो बनाम राज्य एवं डब्ल्यूपी सी 20ल्याण कुमार शॉ बनाम राज्य सरकार को सुनवाई के दौरान विचारार्थ स्वीकृत क र लिया गया है। बंदोबस्ती की कार्रवाई संशोधित नीति से चालू रखने का आदेश दिया गया है। हाइकोर्ट ने अपने एक अहम फैसले में खरसावां जिले के सरायकेला में शराब टेंडर के मुद्दे पर आदेश दिया है कि अगर नीलामी की स्वीकृति नहीं दी गयी है, तो अगली तिथि तक अंतिम निर्णय नहीं लिया जायेगा।ड्ढr बॉटलिंग प्लांट में ताला लगाड्ढr झारखंड में शराब का टेंडर नहीं हुआ है। टेंडर नहीं होने से राज्य में शराब की दुकानें तो बंद है हीं, बॉटलिंग प्लांट में भी ताले लटके हुए हैं। शराब का प्रोडक्शन बंद है। तुपुदाना स्थित अजंता बॉटलर्स में मैकडोबल ब्रांड के शराब की बोटलिंग बंद है। उम्पाद विभाग ने कंपनी के प्रोडक्शन सेक्टर और गोदाम में सीलिंग कर दी है। यही हाल तुपुदाना स्थित स्पेंसर बीयर फैक्ट्ररी का भी है। कुछ दिन पूर्व यहां थंडर बोल्ट की भी बॉटलिंग शुरू हुई थी। टाटीसिललवे स्थित जेमीनी डिस्लरी में रांची नंबर वन ब्रांड की बॉटलिंग होती है। आरा गेट की मिलेनियम डिस्लरी में ताला लटका है। धनबाद के एंबीयेंट लिकर में प्रशासन ने तालेबंदी कर दी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: टेंडर फाइनल होने तक 35 करोड़ का चूना