अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वर्ल्ड माइनिंग कांग्रेस में झारखंड का पैवेलियन

पोलैंड की राजधानी वारसा में इस वर्ष वर्ल्ड माइनिंग कांग्रेस का आयोजन किया जा रहा है। यह आयोजन नौ से 12 सितंबर तक होगा। इसमें झारखंड का पैवेलियन भी लगेगा। इसकी तैयारी चल रही है। देश से 400 शोध पत्रों को प्रस्तुत करने की मंजूरी मिली है, जिसमें खान एवं भूतत्व विभाग के उपनिदेशक शंकर कुमार सिन्हा भी शामिल हैं।ड्ढr सिन्हा ह्यडेवलपमेंट ऑफ ए मिनरल डिपोजिट ऐज सस्टेनेबुल इकॉनोमिक यूनिट विषय पर शोध पत्र प्रस्तुत करंगे। साथ ही सेंट्रल माइनिंग एंड फ्यूल रिसर्च इंस्टीटय़ूट धनबाद, एनएमडीसी, आइबीएम धनबाद द्वारा भी कांग्रेस में शोध पत्र पढ़ा जायेगा।ड्ढr इस संबंध में खान सचिव एके खंडेलवाल ने बताया कि विश्व स्तर निवेशकों को राज्य की खनिज संपदा की ओर आकर्षित करने के लिए कांग्रेस में राज्य का भव्य पैवेलियन बनाया जायेगा। इसके लिए एजेंसियों से बातचीत चल रही है। माइनिंग कांग्रेस में आर्सेलर मित्तल, जेएसपीएल, जेएसडब्ल्यू, एस्सार, आरपीजी सहित 15 कंपनियां स्टॉल लगायेंगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: वर्ल्ड माइनिंग कांग्रेस में झारखंड का पैवेलियन