अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डायन कहने का विरोध करने पर पति को पीटा

नीमाचांदपुरा थाना क्षेत्र के चितरांन टोला निवासी शंकर मोची के 30 वर्षीय पुत्र अशोक मोची को 20 जुलाई की रात कुछ लोगों ने पीटकर अधमरा कर दिया। घायल का इलाज सदर अस्पताल में कराया जा रहा है। 20 जुलाई की रात कुछ युवकों ने पीड़ित के घर घुसकर उसकी पत्नी कविता देवी को डायन कह झाड़-फूंक करने को कहा। इस बात पर घर वालों ने डायन कहने का विरोध किया तो वे लोग महिला को बाल पड़कर घर से खींचने लगे।ड्ढr ड्ढr ग्रामीणों के इकट्ठा होने पर महिला को तो छोड़ दिया गया लेकिन उसके पति को घर से खींचकर गांव की ठाकुरबाड़ी के समीप ले जाकर लात, घूंसे व लाठी से पीट पीटकर अधमरा कर दिया गया। पीड़ित की पत्नी ने बताया कि गांव के उपेन्द्र चौधरी के पोता की तबीयत खराब होने पर उसे झाड़ फूंक करने के लिए जबरन घसीटा गया। वहीं उसके पति को जेनरटर चलाने के बहाने घर बुलाकर उसकी बेरहमी से पिटाई कर दी गयी। थानाध्यक्ष मनोज कुमार ने बताया कि दोषियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर ली गयी है। इस मामले में पीड़ित के बयान पर उपेन्द्र चौधरी, राजेश चौधरी, गिरिनन्दन चौधरी, महेन्द्र चौधरी, अरविन्द चौधरी, योगेन्द्र चौधरी, मकरू चौधरी आदि के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज की गयी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: डायन कहने का विरोध करने पर पति को पीटा