अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सीरीज जीतने के इरादे से उतरेगा भारत

भारत का सपना है श्रीलंका में 15 साल बाद पहली सीरीा जीत। बुधवार से भारत यहां सिंहली क्रिकेट क्लब में पहला टेस्ट खेलेगा। मेजबान श्रीलंका के खिलाफ भारत को यदि यह टेस्ट जीतना है तो स्पिनर अजंता मेंडिस को जरूरत से ज्यादा तवज्जौ न देते हुए अपने खेल पर फोकस करना होगा। 23 साल के जादुई स्पिनर मेंडिस तीन टेस्टों की सीरीा के पहले मैच में अपने टेस्ट करियर की शुरुआत करेंगे। इस मैदान पर श्रीलंका ने पिछले 10 टेस्टों में से सात में जीत हासिल की है। मेंडिस की गेंदबाजी में आफ ब्रेक, लेग ब्रेक, गुगली और टॉप स्पिन का खूबसूरत तालमेल होता है। मेंडिस के अलावा टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले मुथैया मुरलीधरन श्रीलंका की स्पिन गेंदबाजी की बागडोर संभालेंगे। भारत के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ ने कहा, ‘सिर्फ मेंडिस पर ध्यान देना बड़ी भूल होगी। हमें यह नहीं भूलना चाहिए कि मुरलीधरन और चामिंडा वास मिल कर 1000 से ज्यादा टेस्ट विकेट ले चुके हैं। श्रीलंका के पास मैच जिताने की क्षमता रखने वाले कई खिलाड़ी हैं।’ द्रविड ने स्वीकार किया कि श्रीलंका को उसकी जमीन पर हराना एक बड़ी चुनौती है। उन्होंने कहा कि मेजबान टीम काफी संतुलित है। उसे श्रीलंका की धरती पर हरा पाना टेढ़ी खीर है। भरोसेमंद बल्लेबाज द्रविड़ ने कहा, लेकिन हमारी टीम भी कोई कम नहीं है। अगर हम अपनी पूरी क्षमता से खेले तो इसमें कोई शक नहीं कि सीरीा जानदार होगी। श्रीलंका के कप्तान माहेला जयवर्धने ने कहा कि उनके खिलाड़ी प्रतिद्वंद्वी टीम के बारे में सोचने के बजाय अपने खेल पर ध्यान केन्द्रित कर रहे हैं। जयवर्धने ने कहा, भारत के पास अच्छे खिलाड़ी हैं। उसके खिलाफ खेलना आसान नहीं है। लेकिन हम अपने खेल पर ही ध्यान देते हुए चुनौती का सामना करेंगे। उन्होंने कहा कि हमें अनुशासित ढंग से खेलते हुए अपनी रणनीति के मुताबिक खेलना होगा। हम अपनी पूरी ताकत लगाएं तो भारत के खिलाफ मुकाबला कोई कठिन नहीं होगा। श्रीलंका को तेज गेंदबाजी में वास के साथी का चुनाव तिलन तुषारा और नुवन कुलशेखरा के बीच से करना होगा। विकेटकीपर की जिम्मेदारी प्रसन्ना जयवर्धने को सौंपी जाएगी ताकि कुमार संगकारा को अपनी बल्लेबाजी पर ध्यान देने का पूरा मौका मिले।ड्ढr मध्यक्रम में एक जगह के लिए चामरा सिल्वा और तिलकरत्ने दिलशान के बीच होड़ होगी। भारत को यह तय करना है कि वह दो तेज गेंदबाजों के साथ उतरेगा या तीन। अगर उसने दो तेज गेंदबाजों को उतारने का फैसला किया तो मुनाफ पटेल या जहीर खान की जगह आफ स्पिनर हरभजन सिंह को मैदान पर उतारा जा सकता है। मैच में निगाहें सचिन तेंदुलकर पर भी होंगी जो ग्रोइन की चोट से उबर चुके हैं। वह 11टेस्ट रनों के ब्रायन लारा के विश्व रिकार्ड से सिर्फ 172 रन पीछे हैं। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पिछली सीरीा में भारत की पारी की शुरुआत वसीम जाफर ने की थी मगर इस बार यह जिम्मेदारी गौतम गंभीर को सौंपी जाएगी। (रॉयटर्स)

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सीरीज जीतने के इरादे से उतरेगा भारत