DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारत में अब भी संभावना तलाश रही है एमटीएन

भारतीय टेलीकॉम कंपनी रिलायंस कम्युनिकेशंस के साथ बातचीत विफल होने के बावजूद दक्षिण अफ्रीकी कंपनी एमटीएन भारत में फिर से संभावनाएं तलाश रही है। पिछले शुक्रवार को वार्ता टूटने के बाद सोमवार को कंपनी के शेयरों में भारी गिरावट आई थी। रिलायंस कम्युनिकेशंस और उससे पहले भारती एयरटेल के साथ गठजोड़ की संभावना के कारण एमटीएन के शेयरों में 160 रेंड्स की बढ़ोतरी हुई थी, जिनमें सोमवार को 125 रेंड्स की गिरावट दर्ज की गई। विश्लेषकों ने इसे बाजार में सुधार बताते हुए विश्वास जताया हैं कि अफ्रीका की सबसे बड़ी मोबाइल कंपनी एमटीएन साझेदारी की संभावना तलाश रही है, जिसमें भारतीय छोटी कंपनियों भी शामिल हैं। एमटीएन का केवल इतना ही कहना है कि वह अभरते बाजार में अग्रणी कंपनी बने रहना चाहती है। एक टेलीकॉम विश्लेषक रजय अंबेडकर ने कहा कि मैं सोचता हूं कि एमटीएन के लिए भारत एक आकर्षक बाजार है और इसमें कोई संदेश नहीं है कि उस बाजार में प्रवेश करना मुश्किल होता जा रहा है। अंबेडकर ने कहा कि एमटीएन भारत में अब की अधिग्रहण की संभावनाएं तलाश रही है। साथ ही साथ उसकी नजर भारतीय उपमहाद्वीप (पाकिस्तान व बांग्लादेश) पर भी है। विश्लेषकों का कहना है कि इस बारे में एमटीएन शीघ्र ही कोई घोषणा कर सकती है। हालांकि, कुछ अन्य विश्लेषकों का मानना है कि कंपनी को अभी अपने कारोबार पर ध्यान देना चाहिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: भारत में अब भी संभावना तलाश रही है एमटीएन