अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आरक्षितों को सीट नहीं, उदंडों का बवाल

पटना जंक्शन पर कोलकाता जाने के लिए खड्ऱी 2352 दानापुर-हावड़ा एक्सप्रेस में छात्रों ने शुक्रवार रात जमकर तोड़फोड़ की। सभी स्लीपर बोगियों में छात्रों का कब्जा था जिससे पहले ही आरक्षण करा चुके यात्रियों को सीट नसीब नहीं हुई। भीड़ के कारण कई यात्री ट्रेन में सवार भी नहीं हो सके। छात्रों ने दो स्लीपर बोगियों की खिड़कियों के शीशे तोड़ डाले। छात्र कोलकाता में रविवार को आयोजित वेस्ट बंगाल इांीनियरिंग परीक्षा में शामिल होने जा रहे थे। आरपीएफ व जीआरपी के जवान प्लेटफॉर्म पर तो पहुंचे लेकिन मूकदर्शक ही बने रहे। यात्रियों ने स्टेशन प्रबंधक कक्ष में घुसकर हंगामा किया। उनकी मांग थी कि ट्रेन को रोककर उन्हें सीट उपलब्ध कराई जाए। दानापुर से ही छात्रों से भरी ट्रेन रात 8.45 बजे जक्शन पहुंची। यहां भी सैकड़ों छात्र सवार हुए। दो स्लीपर का दरवाजा छात्रों ने अंदर से बंद कर रखा था। इससे प्लेटफॉर्म पर खड़े छात्रों ने खिड़की के शीशे तोड़ दिए। 45 मिनट तक जंक्शन पर अफरातफरी का माहौल था। आलम यह कि छात्राएं भी आपातकालीन खिड़की से बोगी में प्रवेश करने को मजबूर हुईं। ट्रेन को रात साढ़े नौ बजे रवाना कर दिया गया। इसके बाद टिकट कैंसिल कराने के लिए यात्रियों की लंबी कतार लग गई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: आरक्षितों को सीट नहीं, उदंडों का बवाल