DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

‘घर’ में घुसकर मायावती को घेरेगा संप्रग

ेन्द्र में सत्तारूढ़ संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) की सरकार को गिराने में एड़ी चोटी का जोर लगाने वाली बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो एवं उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री मायावती को उन्ही के पैतृक गांव बादलपुर में घेरने की उनके राजनीतिक विरोधियों ने सियासी बिसात बिछाई है। संप्रग में शामिल और मायावती के धुर विरोधी दलित नेता रामविलास पासवान, कांग्रेस के महासचिव राहुल गांधी, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रीता बहुगुणा जोशी और कांग्रेस के उत्तर प्रदेश के प्रभारी दिग्विजय सिंह अगस्त के पहले सप्ताह में बादलपुर में महापंचायत कर मुख्यमंत्री के सामंतवादी रवैए से परेशान किसानों की समस्याएं सुनेंगे। गौतमबुद्ध नगर जिले के बादलपुर और आसपास के नौ अन्य गांवों के असंतुष्ट किसानों ने गुरुवार को इन नेताआें से मुलाकात कर राय सरकार द्वारा किए जा रहे उत्पीड़न की दास्तान सुनाई। असंतुष्ट ग्रामीणों के संगठन किसान संघर्ष समिति के अध्यक्ष जगदीश नम्बरदार ने बताया कि राहुल गांधी के निर्देश पर सिंह और जोशी आगामी 2जुलाई को बादलपुर का दौरा कर स्थिति का जायजा लेंगे। उन्होंने बताया कि बादलपुर में मायावती के महलनुमा मकान के निर्माण और गांव के सुन्दरीकरण के नाम पर सौ बीघा जमीन का जबरन अधिग्रहण किया जा रहा है। नंबरदार ने बताया कि राय सरकार किसानों का पक्ष सुनने के बजाय उनके आंदोलन को कुचलने का प्रयास कर रही है और उन पर गुंडा एक्ट एवं रासुका लगाने की धमकी दे रही है। उन्होंने कहा कि सौ बीघा कृषियोग्य जमीन पर मकान बनाने की मुख्यमंत्री की सनक न सिर्फ अनुचित है, बल्कि समझ से परे भी है और इसे निदर्ोष किसानों का शोषण ही कहा जा सकता है। नंबरदार ने बताया कि पासवान, सिंह और जोशी ने महापंचायत में आने की स्वीकृति दे दी है। उन्होंने बताया कि महापंचायत आगामी अगस्त के पहले सप्ताह में आयोजित होगी, हालांकि इसकी अभी तारीख निश्चित नहीं हुई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ‘घर’ में घुसकर मायावती को घेरेगा संप्रग