class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सर्ड में घपला करने वालों पर होगी कार्रवाई

ग्रामीण विकास विभाग ने सर्ड के निदेशक को लगभग 10 करोड़ रुपये की वित्तीय अनियमितता बरतने वाले पदाधिकारियों के विरुद्ध कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। विभाग ने एजी द्वारा जांच में पकड़ी गयी वित्तीय गड़बड़ी के आलोक में यह कार्रवाई की है।ड्ढr इसमें 3.32 करोड़ रुपये का गलत उपयोगिता प्रमाण पत्र, 27.63 लाख रुपये का गलत इस्तेमाल, 25.73 लाख रुपये की वेतन एवं यात्रा के लिए कपटपूर्ण निकासी, चिकित्सा मद की 7.75 लाख रुपये राशि का गलत ढंग से समायोजन, लेखा सामग्री, मरम्मत और अनुरक्षण की उम्मीद में 2.27 करोड़ रुपये का खर्च, गैर अधिकार प्राप्त पदाधिकारियों के मोबाइल के लिए 2.40 लाख रुपये की अग्रिम निकासी, बिना प्रशासनिक मंजूरी के 62.लाख रुपये का निर्माण कार्य और एमबी प्रस्तुत नहीं किया जाना, 16.50 लाख रुपये का विद्युतीकरण में खर्च आदि शामिल है। इसके अलावा सर्ड में प्रशिक्षण के लिए उपलब्ध लाख रुपये में से 14.28 लाख रुपये का वास्तविक खर्च दिखाया गया जबकि शेष राशि अन्य अस्वीकार्य मदों में खर्च कर दिया गया है। 16.64 लाख रुपये का कंप्यूटर खरीदा गया जो बेकार पड़ा हुआ है, इसे राशि का दुरुपयोग माना गया है।ड्ढr इसी तरह बिना वजह दूरस्थ शिक्षा और प्रशिक्षण के लिए इसरो से 1.04 करोड़ रुपये का उपस्कर खरीद लिया गया। इसे भी गलत कहा गया है। लिफ्ट की खरीद में लाख रुपये का गलत भुगतान किया गया है। भूमि अधिग्रहण के बिना ही 2लाख रुपये की बागवानी पर व्यय कर दिया गया है। बगैर बजट के 10.88 लाख का डीाल जेनरटरसेट खरीदा गया। इन वित्तीय गड़बड़ियों के लिए दोषी पदाधिकारियों की पहचान कर उन कार्रवाई के लिए निदेशक सर्ड को पत्र भेजा गया है।ड्ढr आजसू ने किया दौराड्ढr हटिया में आजसू की बैठक हुई। इसके बाद कार्यकर्ताओं ने वार्ड 53 और 55 के विभिन्न मुहल्लों का दौरा कर जनसमस्याओं की जानकारी ली। बैठक में राखी राव, नीलम सिंह, अर्चना देवी, रवि कुमार आदि उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सर्ड में घपला करने वालों पर होगी कार्रवाई