DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रल पुलिस के दो जवानों ने यात्री को लूटा

ानता की रक्षा करने वाली पुलिस ही दुश्मन बन जाये तो क्या किया जा सकता है। आरोप है कि कुछ इसी तरह के कारनामे को धनबाद रल थाना के दो जवानों ने अंजाम दिया। दो दिन पूर्व देर रात एक रल यात्री से जबरन 17 हाार रुपये ले लिये। लाख मिन्नत के बाद भी दोनों जवानों ने यात्री पर रहम नहीं किया। जी हां घटना टैक्सी स्टैंड में दो दिन पूर्व की है। गिरिडीह जमुआ निवासी मो. मुमताज से जबरन पैसे ले जवानों ने चुपचाप चले जाने को कहा। मामले की शिकायत करने पर जेल भेजने की धमकी भी दी। मामला संज्ञान में आने के बाद एसआरपी ने जीआरपी थानेदार को जांच का आदेश दिया है।ड्ढr मो मुमताज किसी कंपनी का मुंशी है। दो दिन पूर्व वह रात को हटिया-धनबाद पैसेंजर से उतरा। रात में गिरिडीह जाना संभव नहीं था। वह टैक्सी स्टैंड में खड़ा था। दोनों पुलिसकर्मियों ने उसे रोक पूछताछ की। पुलिसकर्मी उसकी तलाशी लेने लगे। कहा मोबाइल चोरी करते हो जेल जाना पड़ेगा। तालाशी के दौरान उसके जेब से 20 हाार रुपये भी मिले। पुलिसकर्मियों ने उक्त रकम को देख मुमताज से पूछा कि इतने रुपये कहां से लाये। चोरी करते हो। वह सफाई देता रहा लेकिन पुलिस वालों ने नहीं सुनी। 17 हाार रुपये लेकर शेष तीन हाार रुपये पुलिस वालों ने लौटाते हुए चले जाने को कहा। भयवश मुमताज अपने घर जाकर परिानों को घटना की जानकारी दी। परिानों के साथ रविवार को फिर धनबाद पहुंचकर एसआरपी से भेंट किया।ड्ढr एसआरपी ने शिकायत के आलोक में जीरआरपी थानेदार को तलब किया। घटना के दिन पेट्रोलिंग करने वाले जवानों को भी बुलाया गया। मुमताज ने पैसा छीनने वाले दोनों जवानों की पहचान कर ली। पहचान के बाद एसआरपी के समक्ष दोनों जवानों ने अपनी सफाई में कहा कि आरोप निराधार है। एक पैसा भी नहीं लिया है। एसआरपी ने जीआरपी थानेदार से मामले की जांच कर रिपोर्ट देने को कहा है।ड्ढr

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: रल पुलिस के दो जवानों ने यात्री को लूटा