DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ेंद्रीय ट्रेड यूनियनों ने 20 अगस्त को देशव्यापी आम हड़ताल की घोषणा की है। यह हड़ताल मजदूर विरोधी नीति एवं असंगठित क्षेत्र के मजदूरों से संबंधित विधेयक संसद में पेश नहीं किये जाने के विरोध में की जा रही है। 27 जुलाई को विधान सभा सभागार में केंद्रीय ट्रेड यूनियनों के सम्मेलन में हड़ताल को सफल बनाने का आह्वान किया गया और इसे लेकर कार्यक्रमों की घोषणा भी की गयी।ड्ढr 20 अगस्त को सभी प्रतिष्ठानों में हड़ताल की घोषणा करते हुए इसे सफल बनाने की अपील की गयी। 30 जुलाई को पूर देश में प्रदर्शन किया जायेगा। चार अगस्त को सभी संस्थानों और प्रतिष्ठानों में हड़ताल का नोटिस दिया जायेगा। इस दिन रैली, प्रदर्शन व सभा भी होगी। 1अगस्त को शाम में मशाल जुलूस भी निकाला जायेगा। सम्मेलन को संबोधित करते हुए वक्ताओं ने कहा कि सरकार श्रम कानून का उल्लंघन कर रही है। सरकार की आर्थिक नीति के कारण गरीबी बढ़ रही है।ड्ढr सम्मेलन को सीटू के झारखंड स्टेट महासचिव डी रामानंद, एटक के अध्यक्ष रमेंद्र कुमार, पी बक्शी, शुभेंदू सेन, लालदेव सिंह, भवन सिंह, विधायक रामचंद्र राम, विनय कुमार एवं अन्य ने संबोधित किया।ड्ढr यूनियन ने जुलूस निकालाड्ढr एटक से संबद्ध हटिया कामगार यूनियन ने 27 जुलाई को यूनियन कार्यालय से विधायक आवास तक जुलूस निकाला।ड्ढr जुलूस में शामिल कामगार मजदूर विरोध नीति बंद करने, असंगठित क्षेत्र के मजदूरों के लिए सामाजिक योजना लागू करने सहित कई मांग कर रहे थे। इसके बाद सभी ट्रेड यूनियन के सम्मेलन में शामिल हुए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: