DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सुंदर श्रंगार सुहाना लगता है..

एमआरएस श्रीकृष्ण प्रणामी सेवा धाम ट्रस्ट के संस्थापक और प्रसिद्ध संत सदानंद जी के साप्ताहिक सत्संग में रविवार को श्रीराज श्यामा जी का दरबार सजाया गया। साथ ही गुरु और ईश्वर की पूजा-अर्चना कर घंटों सत्संग व भजन किया गया। पोद्दार बगान, हरमू रोड निवासी नंदकिशोर चौधरी के आवास पर कार्यक्रम की शुरुआत अपराह्न् तीन बजे से हुई। अनुयायियों ने पहले अपने इष्ट का दरबार सजाया। इसके बाद पूजा-अर्चना कर सुंदर श्रंगार सुहाना लगता है ..जसे भजनों के माध्यम से अपनी श्रद्धा सदगुरु के श्रीरचणों में अर्पित की। जगदीश छावनिका, डुंगरमल अग्रवाल, दिलीप अग्रवाल, विजय जालान, निर्मल जालान, राजू अग्रवाल, नंदकिशोर अग्रवाल, शंकर लाल मोदी, ओम सरावगी ने अपना योगदान दिया।ड्ढr अहंकार में पले वह भक्त नहीं : बहन ललिताड्ढr अहंकार में रहे वह भक्त नहीं है। भक्त तो अपना सब कुछ ईश्वर को निछावर कर जीवन जीता है। उक्त बातें निरंकारी मंडल के सत्संग में बहन ललिता ने कही। अरगोड़ा स्थित सत्संग भवन में उन्होंने उपस्थित अनुयायियों से अहंकार त्यागने का उपदेश देते हुए कहा कि जल सदा ढलान की ओर बहता है, इससे बहुत से राहगीर प्यास बुझा लेते हैं, पर ऊंचे स्थान पर खड़ा रहने वाला प्यासा ही रह जाता है। अशोक नागपाल ने बताया कि तीन अगस्त को सत्संग भवन में रक्तदान शिविर लगाया जायेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सुंदर श्रंगार सुहाना लगता है..