अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारतीय टीम टेस्ट क्रिकेट के लिए फिट नजर नहीं आई

पहले टेस्ट मैच में क्षमता से हल्का प्रदर्शन करने वाली भारतीय टीम के बार में श्रीलंकाई मीडिया का कहना है कि मेहमान टीम टेस्ट क्रिकेट के लिए फिट टीम नजर नहीं आई। भारतीय टीम की शर्मनाक हार पर डेली न्यूज ने लिखा है कि, उन्हें देखकर ऐसा नहीं लगता कि यह टीम इस स्तर पर टेस्ट क्रिकेट खेलने के लिए फिट है। भारतीय बल्लेबाजों के पैर नहीं चल रहे थे। वे क्रीा से चिपके हुए नजर आ रहे थे और स्पिन पर अटैक करने की हिम्मत उन्होंने नहीं दिखाई। अगर भारत के टॉप ऑर्डर ने ऐसा किया होता तो उन्हें इस तरह की शर्मनाक हार का सामना नहीं करना पड़ता। - अखबार ने लिखा है कि अगले दो टेस्ट मैचों में बेहतर प्रदर्शन कर सीरीा पर अपना कब्जा करने के लिए मेहमान टीम को चमत्कार की जरूरत पड़ेगी। भारतीय बल्लेबाजों को पहले टेस्ट मैच में चौथे ही दिन पारी और 23रन से हार का सामना करना पड़ा था। उसके स्पिन गेंदबाजों की जोड़ी मुथैया मुरलीधरन और अजंता मेंडिस ने 20 में से 1विकेट चटकाए थे। अखबार की रिपोर्ट में इस बात पर हैरानी जताई गई है कि जिन भारतीयों ने दुनिया को सिखाया कि स्पिन को कैसे खेला जाता है, वे इतने शर्मनाक ढंग से घुटने टेक देंगे। अखबार ने लिखा है कि - भारतीयों ने दुनिया को सिखाया कि, स्पिन के साथ कैसे मैच जीते जाते हैं। उनका बल्लेबाजी प्रदर्शन एकदम निराशाजनक था। किसी को उम्मीद नहीं थी कि भारतीय इस खराब ढंग से खेलेंगे। नाम से देखा जाए तो उनके पास इस समय खेल में मौजूद दुनिया के श्रेष्ठ बल्लेबाज हैं। लेकिन जिस अंदाज में उन्होंने घुटने टेके वह शर्मनाक है और खेल को नीचे गर्त तक पहुंचाने वाला रहा। -ड्ढr अखबार का मानना है कि स्पिन वंडर मेंडिस को मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार मिलना चाहिए था, उन्होंने 132 रन देकर आठ विकेट चटकाए।ड्ढr अखबार के अनुसार अगर मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार तय करने वाले यह पुरस्कार मेंडिस को देते तो उन्हें कोई गलत नहीं कहता।- अखबार ने लिखा है कि, - मुरलीधरन न मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार पहले भी कई बार जीता है। मेंडिस का यह पहला टेस्ट मैच था और इसमें उनकी गेंदबाजी सनसनीखे रही।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: भारतीय टीम टेस्ट क्रिकेट के लिए फिट नहीं