अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गर्मियों बाद सेना घटाने का फैसला: सेना प्रमुख

थलसेना अध्यक्ष जनरल दीपक कपूर ने शनिवार को कहा है कि जम्मू एवं कश्मीर में सेना घटाने का फैसला गर्मियों के बाद किया जाएगा। कपूर ने एक निजी समाचार चैनल से कहा,‘‘कश्मीर से सेना की तादाद घटाने के बारे में बात करना अभी जल्दबाजी होगी। कश्मीर में सेना घटाई जा सकती है या नहीं यह फैसला करने के लिए इस बार की गर्मियां महत्चपूर्ण हैं।’’ विवादास्पद सशस्त्र बल विशेष अधिकार कानून (एफएसपीए) के बारे में कपूर ने कहा कि सैनिकों को कानूनी रूप से संरक्षण देने के लिए एफएसपीए जरूरी है। उेखनीय है कि जम्मू और कश्मीर के मुख्यमंत्री उमर अब्दुा ने एफएसपीए को समाप्त करने की मांग की है और केंद्र सरकार ने चुनाव के बाद इस कानून की समीक्षा करने का आश्वासन दिया है। सेना अध्यक्ष ने कहा कि यदि जरूरत हुई तो भारतीय सेना तालिबान से मुकाबला करने के लिए तैयार है। ‘‘45 प्रतिशत से अधिक घुसपैठिए विदेशी हैं। यदि तालिबान यहां आने का निर्णय लेते हैं तो भारतीय सेना उनका मुकाबला करने में सक्षम है। तालिबान एक विचारधारा है और यह उनको लश्कर-ए-तैयबा, जश-ए-मुहम्मद या हिजबुल मुजाहिदीन संगठनों से बेहतर लड़ाके नहीं बनाती, जिनका सामना अभी तक भारतीय सेना करती आ रही है।’’

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: गर्मियों बाद सेना घटाने का फैसला: सेना प्रमुख