अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चिविवि में डोनर कार्ड से खून मिलना बंद

अहमदाबाद में हुए बम विस्फोट के बाद चिकित्सा विश्वविद्यालय के ब्लड बैंक में डोनर कार्ड से रक्त देने का काम रोक दिया गया है। इससे कई मरीाों के समक्ष खून का संकट खड़ा हो गया है। पीडियाट्रिक र्सारी विभाग में भर्ती एक बच्चे का सोमवार को खून न मिलने की वाह से ऑपरशन नहीं हो सका। खून का स्टॉक बनाए रखने के लिए आम मरीाों को डोनर कार्ड से खून नहीं दियाोा रहा है।ड्ढr आतंकी हमले की आशंका के बाद चिविवि प्रशासन ने अस्पताल में अतिरिक्त प्रबंध किए हैं। ट्रामा सेंटर में बेड की संख्या बढ़ा दी गई है। ब्लड बैंक में रक्त भी सुरक्षित रखने के आदेश दिए गए हैं लेकिन इसका खामिया आम मरीाों को भुगतना पड़ रहा है। ब्लड बैंक में मरीाों को रविवार से डोनर कार्ड के बदले में रक्त भी नहीं दियाोा रहा है। डोनर कार्ड स्वेच्छिक रक्तदान करने वालों को दियाोाता है। एक डोनर कार्ड के बदले रक्तदाता एक यूनिट रक्त एक वर्ष के अंदर कभी भी ले सकता है।ड्ढr सोमवार को पीडियाट्रिक र्सारी विभाग में भर्ती गुलशन का ऑपरशन खून न मिलने की वाह से नहीं किया गया। बच्चे के पिता का कहना है कि उन्हें ब्लड बैंक में बताया गया कि डोनर कार्ड से अभी खून नहीं दियाोा सकता। कई अन्य मरीा भी ब्लड बैंक से निराश होकर लौट गए। हालाँकि अधिकारियों का कहना है किोल्दी ही विशेष रक्तदान शिविर का आयोन कर खून की उपलब्धताोाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: चिविवि में डोनर कार्ड से खून मिलना बंद