अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वीसी साहब..लगाम लगायें हंगामा करनेवालों पर

रांची वीमेंस कॉलेज के शिक्षक एवं कर्मचारियों ने शनिवार को कॉलेज में कुछ छात्र संगठनों द्वारा किये गये हंगामे और एक शिक्षिका द्वारा उनका साथ देने की भर्त्सना की है। वीमेंस कॉलेज शिक्षक संघ की आकस्मिक बैठक 28 जुलाई को डॉ मीना सोरन की अध्यक्षता में हुई।ड्ढr इसमें कॉलेज की शिक्षिका डॉ उषा किरण द्वारा कॉलेज में बाहरी तत्वों का साथ देने और सार्वजनिक रूप से प्राचार्या तथा वरीय शिक्षिकाओं को अपशब्द कहे जाने की निंदा की गयी। शिक्षिकाओं ने कहा कि इस घटना से कॉलेज की छात्राएं असुरक्षित हो गयी हैं।ड्ढr कॉलेज के शिक्षकेतर कर्मचारी संघ ने सोमवार को वीसी ज्ञापन सौंप कर इस घटना का विरोध किया। कर्मचारियों ने पूरी घटना का विवरण प्रस्तुत करते हुए कहा कि कॉलेज की शिक्षिका डॉ उषा किरण प्रदर्शन कर रहे छात्रों के बीच पहुंच कर भड़काऊ नारबाजी कर रहीं थीं। उनके उकसाने पर ही छात्रों ने गेट का ताला तोड़ा और अंदर प्रवेश कर गये। इसके कारण अफरातफरी मची और छात्राएं डर कर इधर-उधर भागने लगीं। मौके पर मौजूद प्रोफेसर इंचार्ज डॉ जीनत कौसर एवं डॉ इंदिरा पाठक ने उन्हें रोका भी, लेकिन उन्होंने उनकी नहीं सुनी। उन्होंने अपने कर्तव्य में कोई कोताही नहीं बरती है।ड्ढr हंगामे की रिपोर्ट वीसी को सौंपी गयीड्ढr रांची वीमेंस कॉलेज द्वारा शनिवार को कॉलेज में हुई घटना की पूरी रिपोर्ट वीसी को सौंप दी गयी है। कॉलेज की शिक्षिका द्वारा छात्रों को उकसाने से संबंधित रिपोर्ट भी वीसी को प्राप्त हो गयी है। वीसी प्रो एए खान ने कहा कि उन्हें रिपोर्ट मिल गयी है। इसका अध्ययन किया जा रहा है। शीघ्र कार्रवाई की जायेगी।ड्ढr कॉलेज में हंगामा दुर्भाग्यपूर्ण: छात्र संघड्ढr झारखंड विवि छात्र संघ ने रांची वीमेंस कॉलेज में हुए हंगामे की भर्त्सना की है। संघ के साकेत तिवारी, रविरांन कुमार एवं सूर्यकांत ने कहा कि छात्राओं के कॉलेज में तालाबंदी और हंगामा दुर्भाग्यपूर्ण है। इस घटना से छात्राएं डरी हुईं हैं। यह सब सिर्फ एडमिशन में अपना काम निकालने के लिए किया जा रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: वीसी साहब..लगाम लगायें हंगामा करनेवालों पर