अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

थाने से रिहाई के मामले में गिरगी गाज

ट्रक पर फर्ाी नंबर डालकर आगरा से 10 लाख 56 हाार रुपए मूल्य के सरसो तेल को पटना में बेच देने और इस मामले के दो आरोपितो में से एक को अगमकुआं पुलिस द्वारा गिरफ्तार करने के बाद छोड़ देने के मामले ने तूल पकड़ लिया है। सोमवार को ‘हिन्दुस्तान’ द्वारा किए गए इस खुलासे के बाद आगरा से आए पीड़ित ट्रांसपोर्टर ने जहां पटना के सीनियर एसपी अमित कुमार से मिलकर न्याय की गुहार लगायी वहीं आगरा के एसएसपी रघुबीर लाल ने भी पटना के एसएसपी को एक फैक्स भेजकर इस मामले के सार आरोपितों की गिरफ्तारी में मदद करने का आग्रह किया है। एसएसपी ने इस गंभीर मामले पर कड़ा रुख अपनाते हुए इसकी जांच के आदेश दिए हैं। उन्होंने अगमकुआं थाना प्रभारी को भी मंगलवार को तलब किया है।ड्ढr ड्ढr ऑल इण्डिया रोड लाइंस के मालिक सह टांसपोर्टर सतीश चंद्र कुमार पचौरी के पार्टनर अजरुन यादव ने सोमवार को एसएसपी से मुलाकात की। उन्होंने वरीय आरक्षी अधीक्षक को बताया कि किस तरह ट्रक पर फर्ाी नंबर डालकर उनकी कंपनी को चूना लगाया गया। बताया जाता है कि मनोज को छोड़ने के लिए एक वरीय पुलिस पदाधिकारी ने अगमकुआं थाने पर दबाव बनाया था। इस दबाव का कारण क्या हो सकता है इसका सहा अनुमान लगाया जा सकता है। सूत्रों के अनुसार इस मामले में पुलिसकर्मियों पर गाज गिरनी तय मानी जा रही है। बताया जाता है कि अब संबधित पुलिस अधिकारी अपने बचाव में एक-दूसर पर आरोप मढ़ने की तैयारी में लगे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: थाने से रिहाई के मामले में गिरगी गाज