अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सुषमा स्वराज के बयान से भाजपा सकते में

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की वरिष्ठ नेता सुषमा स्वराज द्वारा बेंगलूर और अहमदाबाद के बम विस्फोटों के लिए केन्द्र की संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार पर उंगली उठाए जाने से पूरी पार्टी हतप्रभ है। उसके नेताआें के लिए स्वराज के बयान पर टिप्पणी करते नहीं बन रहा है। भाजपा के कई वरिष्ठ नेताआें से संपर्क करने पर किसी ने आधिकारिक तौर पर टिप्पणी करने से साफ मना कर दिया। हर किसी ने स्वराज के बयान पर हैरानी जाहिर करते हुए पहले तो मौन साध लिया लेकिन बाद में कुरेदने पर एक नेता ने कहा कि किसी जिले का नेता भी इस तरह बयान नहीं देगा। पता नहीं सुषमाजी तो इतनी वरिष्ठ नेता हैं उन्होंने क्या सोच कर यह बयान दे दिया। भाजपा के उच्च पदस्थ सूत्रों के अनुसार पार्टी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार लालकृष्ण आडवाणी और राष्ट्रीय अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने स्वराज से फोन पर उनके बयान पर अप्रसन्नता जताई और उन्हें साफ कर दिया कि पार्टी उनकी राय से बिल्कुल इत्तेफाक नहीं रखती। उल्लेखनीय है कि स्वराज ने सोमवार को पार्टी की प्रेस ब्रीफिंग में यह आरोप लगाकर सबको स्तब्ध कर दिया था कि मनमोहन सरकार के विश्वासमत हासिल करने के चार दिन बाद जिस तरह से दो भाजपा शासित रायों कर्नाटक और गुजरात में बम विस्फोट हुए है उसमें साजिश की गंध आती है। विश्वासमत के दौरान हुए सांसदों की खरीद-फरोख्त के मसले से ध्यान बटाने के लिए अमेरिका परस्ती के कारण जो मुस्लिम वोट खिसक गया है उसे भाजपा का कृत्रिम भय दिखाकर अपने साथ लाने के लिए यह विस्फोट कराए गए है। उन्होंने कहा कि ऐसा कभी नहीं हुआ कि 24 घंटे में दो भाजपा शासित रायों में एक जैसे बम विस्फोट हुए। यहां तक की एकतरह के विस्फोटक सामग्री का इस्तेमाल किया गया। उन्होंने कहा कि आखिरकार कोई परिस्थितिजन्य साक्ष्य जैसी चीज भी होती है। भाजपा सूत्रों ने कहा कि स्वराज के इस बयान के बाद बेवजह कांग्रेस को आडवाणी को निशाना बनाने का मौका मिल गया। कांग्रेस ने बढ़ते आतंकवाद के लिए अपनी जिम्मेदारी से पल्ला झाड़ते हुए देश मंे आतंकवादी घटनाएं बढ़ने के लिए आडवाणी की रथयात्रा को बहुत हद तक जिम्मेदार ठहरा दिया। सूत्रों ने कहा कि स्वराज के बड़े कद को देखते हुए पार्टी अभी कुछ कार्रवाई तो नहीं कर सकती लेकिन भविष्य में जब पार्टी नेता साथ बैठेंगे तो उनके बयान पर अवश्य चर्चा होगी।ड्ढr

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सुषमा स्वराज के बयान से भाजपा सकते में