DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मायावती अपनी मूर्तियाँ हटाएँ वरना चलेगा बुलडोचार

समाावादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव ने मुख्यमंत्री मायावती पर हाल के दिनों का सबसे तीखा हमला बोलते हुए उन्हें चेतावनी दी है कि या तो वे अपनी खुद की मूर्तियों को हटवा लें वरना उन पर बुलडोर चलेगा। बुधवार को यहाँ प्रेस कांफ्रेंस में उन्होंने कहा कि अपनी मूर्तियाँ लगवा कर मायावती ने भारतीय परंपरा का अपमान किया है। इस परपंरा मेंोीवित इनसान की मूर्ति नहीं लगती। उन्हें लगवाने में उन्होंने भारी-भरकम सरकारी धन खर्च किया। वे इन मूर्तियों को तत्काल हटवाएँ और इस पर हुए खर्च की अपने पैसे से भरपाई करं, वरना हमारी सरकार आई और समाावादी पार्टी के कार्यकर्ताओं या स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों को गुस्सा आ गया तो बुलडोर चलोाएगा। हम भले न कुछ करं लेकिन बुलडोर तो चल हीोाएगा। श्री यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री को पत्थरों से प्रेम है औरोमीन कबा करने की आदत।ोिस गोमती नगर स्टेडियम ने इतने खिलाड़ी दिए उसे भी गिरवा दिया। सुप्रीम कोर्ट के सामने सही तथ्य नहीं रखे गए। सपा प्रमुख ने कहा कि हमारी सरकार ने लोहिया पार्क के पासोयप्रकाश नारायाण अंतराष्ट्रीय केन्द्र बनाने की पहल की थी। दो करोड़ रुपए खर्च भी हुए थे। उसका काम इस सरकार ने बंद कर दिया है। इसी तरह रााभवन चौराहे के पास मेरी सरकार के कार्यकाल में डा. राममनोहर लोहिया की याद में उनकी चौखम्भा नीति के प्रतीक के तौर पर चार खम्भे लगवाए गए थे। उन्हें भी इस सरकार ने गिरवा दिया है। डा. अम्बेडकर के नाम पर मुख्यमंत्री चाहेोो बनवाएँ लेकिन बाकी महापुरुषों का अपमान हम नहीं होने देंगे।ोयप्रकाश नारायण के नाम पर केन्द्र का काम शुरू हो व हटाए गए चौखम्भे भी लगवाएोाएँ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मायावती अपनी मूर्तियाँ हटाएँ वरना चलेगा बुलडोचार