अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रसूल और पतंगिया ने खींचा था खाका

अहमदाबाद और बेंगलुरु में हुए धमाकों की साजिश कराची में रची गई। यह दावा है खुफिया ब्यूरो यानी आईबी का। आईबी की मानें तो रसूल खान परती और मोहम्मद सूफिया अहमद पतंगिया ने ही दोनों शहरों में बम धमाकों का पूरा खाका खींचा है। ‘रडिफ डॉट काम’ ने आईबी सूत्रों के हवाले से यह खबर दी है। खबर में बताया गया है कि दोनों मास्टरमाइंड कराची के फरहान आर्केड गुलिस्ताँ में रहते हैं। वैसे मूल रूप से ये आंध्र प्रदेश की राजधानी हैदराबाद के रहने वाले हैं। पाकिस्तान भागने से पहले दोनों ने जेहादी गतिविधियों के लिए हैदराबाद और देश के अन्य हिस्सों में युवकों की भर्ती की थी। दोनों के बार में पता चला है कि वे हूाी के सदस्य हैं और सिमी से जुड़े युवकों के जरिए धमाके करते हैं। गुजरात के गृह मंत्री रहे हरन पांडय़ा की हत्या के मामले में भी परती और पतंगिया वांछित हैं। जाँचकर्ताओं को दोनों शहरों में धमाकों का तरीका भी पता चल गया है। उनका कहना है कि इस बार साजिश रचने वालों ने भारतीयों की मदद से ही यह काम किया। युवकों की भर्ती करने के बाद रसूल और सूफिया ने उन्हें नौकरी देने के बहाने संयुक्त अरब अमीरात भेजा। एसा इसलिए किया गया ताकि पुलिस की नजर न पड़े। अमीरात से सभी को दुबई और वहां से पीओके के मुजफ्फराबाद ले जाया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: रसूल और पतंगिया ने खींचा था खाका