DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वोट के बदले नोट कांड की जांच शुरू

वोट के बदले नोट प्रकरण की जांच के लिए गठित संसदीय समिति आगामी 4 अगस्त को सभी सबूतों की छानबीन करगी। समिति ने गवाही के लिए सांसदों को रिश्वत के लेन-देन का स्टिंग शूट करने वाली निजी टेलीविजन चैनल की टीम को भी बुलाने का फैसला किया है। स्टिंग की सीडी से प्राप्त तथ्यों के अलावा सभी सबूतों पर जांच समिति गहराई से नजर घुमाएगी। लोकसभा स्पीकर द्वारा बिठाई गई यह जांच समिति तीनों भाजपा सांसदों अशोक अर्गल, फगन सिंह कुलस्ते व महावीर भगोर की शिकायत पर केन्द्रित है। सांसदों का आरोप था कि 22 जुलाई को सरकार के विश्वासमत के दौरान अनुपस्थित रहने के लिए उन्हें तीन-तीन करोड़ रुपए की पेशकश की गई थी। इन तीनों सांसदों ने सपा महासचिव अमर सिंह, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के राजनीतिक सचिव अहमद पटेल, सपा सांसद रवती रमण सिंह को शिकायत में नामजद किया है। उन्होंने अर्गल के घर पर पहुंचाए गए 1 करोड़ रुपए का बैग लोकसभा स्पीकर को पहले ही सौंप दिया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: वोट के बदले नोट कांड की जांच शुरू