अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पीजी का छात्र था मनोज, पिठोरिया घाटी से शव मिला

अपहृत मनोज चौरसिया की हत्या दोस्तों ने कर दी है। पुलिस ने उसके शव को पिठोरिया घाटी से बरामद किया और पोस्टमार्टम के लिए रिम्स भेज दिया है। हत्या के मामले में मनोज के दोस्त रमेश कुमार सिंह को गिरफ्तार किया गया है, जबकि एक अन्य अभियुक्त अनीस पांडेय फरार है। मनोज पीजी का छात्र था। वह डालटनगंज के चैनपुर का रहनेवाला था। उसके पिता वृजमोहन चौरसिया पेशे से वकील हैं। मनोज अपने चाचा के अशोक चौरसिया के साथ सुखदेवनगर थाना क्षेत्र में विकास नगर में रहता था। अशोक चौरसिया ने बताया कि 17 जुलाई को मनोज अपने दोस्त अनीस के साथ कहीं निकला था। जब देर तक नहीं लौटा तो उसी शाम सुखदेवनगर थाना में अपहरण का मामला दर्ज कराया गया। मामला दर्ज होने के बाद सुखदेवनगर पुलिस ने खोजबीन शुरू की और संदेह के आधार पर रमेश कुमार सिंह को गिरफ्तार किया।ड्ढr पूछताछ करने पर रमेश ने पुलिस को बताया कि मनोज की हत्या कर दी गयी है। उसकी निशानदेही पर मनोज का शव बरामद किया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पीजी का छात्र था मनोज, पिठोरिया घाटी से शव मिला