DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आईएईए की बैठक में पाक रुख पर संदेह

भारत के लिए विशेष ‘सेफगार्ड’ समझौते के मसौदे को स्वीकार करने के लिए अंतर्राष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी (आईएईए) बोर्ड की शुक्रवार को होने वाली बैठक से एक दिन पहले तक इस मामले पर पाकिस्तान का रुख साफ नहीं है। पाकिस्तान ने अभी यह स्पष्ट नहीं किया है कि वह बोर्ड की बैठक से अनुपस्थित रहेगा या फिर प्रस्ताव की स्वीकृति पर मतदान की मांग करेगा। एक अवकाश प्राप्त पाकिस्तानी राजदूत का अनुमान है कि पाकिस्तान बैठक से अनुपस्थित रह सकता है। इसके पहले इस महीने के आरंभ में पाकिस्तान ने आईएईए बोर्ड के सदस्यों के बीच एक पत्र वितरित करके सेफगार्ड समझौते के प्रस्तावित मसौदे के प्रति अपना विरोध दर्ज कराया था। पत्र में विशेष निगरानी समझौते को ‘भेदभावपूर्ण और खतरनाक’ बताया गया। पत्र में कहा गया है कि असैनिक परमाणु तकनीक सभी देशों को बिना किसी भेदभाव के उपलब्ध होनी चाहिए। असैनिक परमाणु समझौते से भारत को मिलने वाले लाभ और संभावनाओं को खुद भी हासिल करना चाहता है तथा खुद भी परमाणु प्रौद्योगिकी के कारोबार में शामिल होना चाहता है। उधर सूत्रों ने गुरुवार को कहा कि इस समझौते को लेकर आईएईए सचिवालय ने काफी सावधानी से चर्चा की है और तभी इसे मंजूरी के लिए अनुमोदित किया गया है। आईएईए महानिदेशक मोहम्मद अलबरदेई पहले ही भारत को एक महत्वपूर्ण सहयोगी और अंतर्राष्ट्रीय शांति और सुरक्षा के लिए योगदान देने में विश्वास रखने वाला देश बता चुके हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: आईएईए की बैठक में पाक रुख पर संदेह