अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्तनपान का कोई विकल्प नहीं

मधु कोड़ा ने कहा माताएं नवजात शिशु को अपना दूध पिलायें। क्योंकि यह प्रकृति की देन है और इसका कोई विकल्प नहीं। वे शुक्रवार को एक्सआइएसएस सभागार में बोल रहे थे। यहां उन्होंने विश्व स्तनपान सप्ताह का उद्घाटन किया। कार्यक्रम का आयोजन समाज कल्याण, महिला एवं बाल विकास विभाग के तत्वावधान में किया गया था।ड्ढr इसके पूर्व कल्याण मंत्री जोबा मांझी ने झारखंड में शिशु मृत्यु दर रोकने की अपील की। कहा कि सितंबर में पोषण सप्ताह मनाया जायेगा, जिसमें स्तनपान के साथ बाह्य पोषक तत्वों के बार में बताया जायेगा। समाज कल्याण विभाग की निदेशक डॉ एमएन केरकेट्टा ने अभियान पर प्रकाश डाला। बताया कि ब्रेस्टफीडिंग से शिशुओं को 50 प्रतिशत तक रोगों से बचाया जा सकता है। समाज कल्याण के प्रधान सचिव यूके संगमा, यूनिसेफ की संगीता जकब, रिम्स निदेशक डॉ एन अग्रवाल, केयर के सुजीत रांन और सिस्टर स्टेला ने भी विचार रखे। नुक्कड़ नाटक का आयोजन हुआ।ड्ढr सप्ताह भर होगा कार्यक्रमड्ढr रांची। विश्व स्तनपान सप्ताह के दूसर दिन रिम्स में गोष्ठी का आयोजन किया गया है। इसमें डॉक्टर्स भाग लेंगे, इसकी जानकारी निदेशक रिम्स एन अग्रवाल ने दी। पूर सप्ताह राज्य के सभी जिले में गोष्ठी, सेमिनार का आयोजन होगा।ड्ढr पौधा लगाया : उद्घाटन कार्यक्रम में सीएम मधु कोड़ा ने केले का पौधा लगाया, जबकि जोबा मांझी ने अमरूद का पौधा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: स्तनपान का कोई विकल्प नहीं