अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारत यात्रा के दौरान काबुल दूतावास हमले पर वार्ता करेंगे करजई

अफगानिस्तान के राष्ट्रपति हामिद करजई कोलंबो सार्क शिखर सम्मेलन में भाग लेने के बाद दो दिवसीय यात्रा पर रविवार रात भारत पहुंच रहे है। भारतीय नेताओं के साथ उनकी वार्ता में सात जुलाई को काबुल में भारतीय दूतावास पर बम हमले में पाकिस्तानी खुफिया एजेंटों के शामिल होने के मुद्दे पर प्रमुख रूप से चर्चा हो सकती है। करजई का सोमवार सुबह राष्ट्रपति भवन में पारंपरिक रूप से स्वागत किया जाएगा। करजई के साथ अफगान विदेशमंत्री रंगिन दादफर पांटा और वहां के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जलमई रसूल भी भारत आ रहे हैं। कूटनीतिक सूत्रों के अनुसार करजई के साथ भारतीय नेता काबुल में भारतीय दूतावास पर हुए हमले में पाकिस्तानी खुफिया अधिकारियों के शामिल होने के कारण उत्पन्न परिस्थितियों से निपटने के उपायों पर चर्चा कर सकते हैं। अफगानिस्तान में भरतीयों पर पहली बार हुए आतंकवादी हमले में एक कूटनीतिज्ञ और ब्रिगेडियर रैंक के एक अधिकारी सहित 54 लोगांे की मौत हुई थी। करजई ने खुद इस मामलें में विदेशी ताकतों का हाथ होने का इशारा करते हुए कहा था कि यह भारत-अफगान मित्रता को तोड़ने की कोशिश करने वालों की करतूत है। प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के अतिरिक्त करजई राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल, उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी, संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन की अध्यक्ष सोनिया गांधी, विदेशमंत्री प्रणब मुखर्जी और लोकसभा में विपक्ष के नेता लालकृष्ण आडवाणी से भी भेंट करेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: काबुल दूतावास हमले पर वार्ता करेंगे करजई