अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पांच लाख का इनामी डाकू ठोकिया मारा गया

उत्तर प्रदेश में आतंक का पर्याय बना डाकू अम्बिका प्रसाद उर्फ ठोकिया रविवार रात को विशेष कार्य बल (एसटीएफ) के साथ मुठभेड़ में मारा गया। उसके ऊपर पांच लाख रुपये का इनाम था। पुलिस के अनुसार बीती रात चार घंटे से अधिक चली मुठभेड़ में एसटीएफ को यह सफलता मिली। ठोकिया ने गत वर्ष ददुआ के मारे जाने के बाद 23 जुलाई को पुलिस के छह जवानों को मार डाला था। इसके बाद पुलिस ने इस पर शिकंजा कसना और तेज कर दिया था। रविवार को सूचना मिली थी कि वह अपने गांव चिरखौरी के निकट भरतकूप आया है उसी दौरान पुलिस ने गांव को घेर लिया और उसे आत्मसमर्पण के लिए ललकारा लेकिन डकैतों ने पुलिस दल पर गोलियां बरसानी शुरू कर दी। एसटीएफ ने भी जवाबी कार्रवाई की, जिसमें वह मारा गया। मुठभेड़ चार घंटे से अधिक चली। गोलीबारी थमने के बाद सोमवार तड़के मारे गए डकैत की पहचान ठोकिया के रूप में हुई। इसका मध्यप्रदेश और उत्तर प्रदेश के कई जिलों में आतंक था। राय के पुलिस महानिदेशक विक्रम सिंह और अपर पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) बृजलाल घटनास्थल के लिए रवाना हो गए हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पांच लाख का इनामी डाकू ठोकिया मारा गया