DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पैगंबर ने शांति व भाईचारे का पैगाम दिया : मुनअमी

पैगंबर मोहम्मद (सल.) ने विश्व को शांति व भाईचारा का पैगाम दिया। उन्होंने लोगों के बीच एकता बनाए रखने की बात कही। लोगों को बदला लेने से मना किया और माफ करने का कहा। खानकाह मुनीमिया के सज्जादा गद्दीनशीं सैयद शाह शमीम मुनअमी ने ये बातें रविवार को खुदाबख्श दिवस समारोह के अवसर पर आयोजित जलसा-ए- सीरतुन नबी में कहीं। उन्होंने कहा कि इस्लाम ताकत और चमत्कार से नहीं फैला बल्कि यह अपने बुनियदी सिद्धांतों से दुनिया के कोने-कोने में फैला है।ड्ढr ड्ढr मोहम्मद की बतायी हुईं बातों से प्रभावित होकर ही अरब के लोग इस्लाम की ओर आकर्षित हुए। यह भी सही है कि मोहम्मद की बातें आज भी प्रासंगिक है और भविष्य में भी रहेंगी। मुनअमी ने महती भीड़ को संबोधित करते हुए कहा क इस्लाम ही मात्र एक ऐसा धर्म है जिसने दुनिया को एक नया विचार दिया। मोहम्मद की जिंदगी और उनके बताए हुए रास्तों पर चलकर ही लोग कामयाब हो सकते हैं। वहीं जलसा की अध्यक्षता करते हुए इमारत-ए- शरिया के अमीर-ए- शरियत मौलाना सैयद निजामउद्दीन ने मोहम्मद की जीवनी पर विस्तार से प्रकाश डाला। इससे पूर्व सुबह में लाइब्रेरी के संस्थापक खुदा बख्श की मजार पर गुलपोशी की गई। साथ ही उनकी आत्मा की शांति के लिए फातिहा व कुरआनखानी का भी आयोजन किया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पैगंबर ने शांति व भाईचारे का पैगाम दिया : मुनअमी