अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तीसरी सोमवारी पर उमड़ा जनसैलाब

सावन मास की तीसरी सोमवारी को बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने भोले बाबा का जलाभिषेक किया। पहाड़ी मंदिर सहित शहर के अन्य शिवालयों में सुबह से भक्तों का तांता लगा रहा। मंदिर परिसर बोल बम, ताड़क बम, हरहर महादेव के नारों से देर शाम तक गूंजता रहा। शाम में विशेष श्रंगार, पूजन और आरती की गयी।ड्ढr हाथों में पूजन सामग्री लिये श्रद्धालुओं का तांता सुबह से देर शाम तक लगा रहा। शाम में बाबा की विशेष आरती की गयी। इसके बाद रात साढ़े नौ बजे प्रसाद वितरण के साथ मंदिर का पट बंद कर दिया गया। रांची शहर के अन्य देवालयों में भी बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने भोले बाबा का जलाभिषेक किया।ड्ढr बाबा का श्रंगार : सावन की तीसरी सोमवार पर पहाड़ी बाबा का विशेष श्रंगार फूल-पत्तों और आभूषणों से किया गया। पहले शिव भक्त मंडल के सदस्यों ने और इनके बाद पहाड़ी मंदिर विकास समिति की ओर से बाबा का श्रंगार किया गया।ड्ढr सुरक्षा के व्यापक इंतजाम : पहाड़ी मंदिर में भक्तों की भीड़ को देखते हुए जिला प्रशासन की ओर से सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किये गये। साथ ही स्वयंसेवक संघ, बजरंग दल, विहिप और अखिल भारतीय पीठ परिषद सहित पहान और टाना भगत मौके पर मुस्तैद रहे। सदर अस्पताल की ओर से भी स्टाल लगाये गये थे।ड्ढr एनसीसी के कमांडिंग ऑफिसर विंग कमांडर नीतिश कुमार के नेतृत्व में सीनियर डिवीजन के 25 कैडेटों ने सुबह से दोपहर तक व्यवस्था की कमान अपने हाथ में रखी। सार्जेट बत्रा, सीनियर कैडेट अंडर ऑफिसर चंद्रशेखर, मुकेश कुमार सिंह, सुमन, लीलावती, शालू गुप्ता, किरण माला, रानी कुमारी की उल्लेखनीय भूमिका रही।ड्ढr शिव दर्शन प्रदर्शनी : पहाड़ी मंदिर में ब्रह्माकुमारी संस्थान की ओर से लगायी गयी शिव दर्शन चरित्र निर्माण प्रदर्शनी आकर्षण का केंद्र बनी रही। प्रदर्शनी में निरंकार परमात्मा और उनके दिव्य कर्तव्य, शिव के दिव्य स्वरूप आदि को सचित्र दर्शाया गया। ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: तीसरी सोमवारी पर उमड़ा जनसैलाब